अपराधी राज्य में आने वाले निवेश के सबसे बड़े दुश्मन: मुख्यमंत्री |

अपराधी राज्य में आने वाले निवेश के सबसे बड़े दुश्मन: मुख्यमंत्री

अपराधी राज्य में आने वाले निवेश के सबसे बड़े दुश्मन: मुख्यमंत्री

: , December 1, 2022 / 12:00 AM IST

गोरखपुर (उत्तर प्रदेश), 30 नवंबर (भाषा) उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को कहा कि अपराधी और उन्हें संरक्षण देने वाले लोग राज्य में आने वाले निवेश के सबसे बड़े दुश्मन हैं इसलिए सरकार ने अपराध को ‘‘कतई बर्दाश्त नहीं करने’’ की नीति अपनायी है।

मुख्यमंत्री ने यहां गोरखपुर औद्योगिक विकास प्राधिकरण (गीडा) के स्थापना दिवस समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का लक्ष्य अगले पांच वर्षों में भारत को पांच हजार अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था में बदलना है।

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘अपराधी और उन्हें संरक्षण देने वाले लोग निवेश के सबसे बड़े दुश्मन हैं और राज्य में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सरकार ने अपराधियों और उन्हें शरण देने वालों को कतई बर्दाश्त नहीं करने की नीति अपनाई है।’

उन्होंने कहा कि इससे पहले, कोई भी उत्तर प्रदेश नहीं आना चाहता था और यह राज्य गुंडागर्दी, अराजकता और राजनीति के अपराधीकरण के लिए जाना जाता था, मगर आज राज्य में एक सुरक्षित माहौल है।

आदित्यनाथ ने कहा, ‘सरकार ने न केवल अपराध पर अंकुश लगाया है बल्कि निवेशकों के लिए भ्रष्टाचार मुक्त वातावरण भी विकसित किया है। निवेश मित्र पोर्टल पर निवेशकों के लिए 340 से अधिक सेवाएं उपलब्ध हैं।’

उन्होंने कहा ‘सरकार ने निवेशकों के लिए 25 क्षेत्रों की पहचान की है। इन क्षेत्रों से संबंधित प्रोत्साहन भी निवेशकों को पोर्टल के माध्यम से प्राप्त होते रहेंगे। उत्तर प्रदेश ‘ईज ऑफ डूइंग बिजनेस’ (व्यापार करने में आसानी) में देश में दूसरे स्थान पर है और इसे देश में पहले स्थान पर लाने के लिए एक अभियान शुरू किया गया है।’

आदित्यनाथ ने कहा कि देश को पांच हजार अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनने के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए उत्तर प्रदेश को खुद को एक हजार अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था में बदलना होगा और इसके लिए अधिकतम निवेश और रोजगार सृजन पर ध्यान देना चाहिए।

उन्होंने कहा कि निर्यात को बढ़ावा देने के प्रयास किए जाने चाहिए।

आदित्यनाथ ने इस मौके पर 504 करोड़ रुपये की 133 निवेश परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया और 260 करोड़ रुपये की लगभग 50 विकास परियोजनाओं की शुरुआत की।

उन्होंने 1,200 करोड़ रुपये की निवेश परियोजनाओं के 24 निवेशकों को भूमि आवंटन प्रमाण पत्र भी दिए और कहा कि पिछले पांच वर्षों में गीडा में जितना निवेश किया गया है, वह उससे पहले के 27 वर्षों में किए गए निवेश से अधिक है।

मुख्यमंत्री ने गोरखपुर के निवेशकों का फरवरी 2023 में लखनऊ में होने वाले वैश्विक निवेशक सम्मेलन में भाग लेने का भी आह्वान किया।

भाषा सं सलीम सिम्मी

सिम्मी

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)