विदेशी गणमान्य व्यक्तियों ने कुशीनगर हवाईअड्डे के उद्घाटन पर प्रसन्नता जताई

विदेशी गणमान्य व्यक्तियों ने कुशीनगर हवाईअड्डे के उद्घाटन पर प्रसन्नता जताई

Edited By: , October 20, 2021 / 01:23 PM IST

कुशीनगर (उप्र), 20 अक्टूबर (भाषा) श्रीलंका के मंत्री नमाल राजपक्षे सहित अनेक विदेशी गणमान्य लोगों ने कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के उद्घाटन पर खुशी जताई और कहा कि इससे भारत आने वाले बौद्ध पर्यटकों की संख्या में इजाफा होगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे का उद्घाटन किया और कहा कि उनकी सरकार ने विमानन क्षेत्र में नयी ऊर्जा भरने के लिए कई कदम उठाए हैं।

राजपक्षे ने उद्घाटन सामारोह पर संवाददाताओं से कहा, ‘‘ भारत और श्रीलंका के बीच पर्यटन हमेशा से मजबूत रहा है। भारत से बहुत सारे लोग श्रीलंका आते हैं वहीं श्रीलंका से बड़ी संख्या में श्रद्धालु भारत के विभिन्न राज्यों से आते हैं, खासतौर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में।’’

श्रीलंकाई कैबिनेट के मंत्री ने कहा,‘‘ इसलिए अब हमारा मानना है कि कुशीनगर में अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा बनने से श्रीलंका से भारत आने वाले पर्यटकों की संख्या बढ़ेगी, साथ ही पूरी दुनिया से बौद्ध श्रद्धालु भी यहां आएंगे।’’

भारत में थाईलैंड के राजदूत पट्टारत होंगतोन ने कहा कि कुशीनगर हवाईअड्डे से दोनों देशों के बीच पर्यटन में सुधार होगा और इससे बौद्ध श्रद्धालुओं को सुविधा मिलेगी।

भारत में वियतनाम के राजदूत फाम सान चाऊ ने कहा कि कुशीनगर में अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा बनने से भारत में बौद्ध पर्यटकों की संख्या में बढ़ोतरी होगी।

कुशीनगर गौतमबुद्ध का महापरिनिर्वाण स्थल है और बौद्ध समुदाय के लोगों का एक अहम तीर्थ स्थल है। नया अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा करीब 260 करोड़ रुपये की लागत से 589 एकड़ भूभाग में बना है। यह उत्तर प्रदेश का तीसरा अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा है और बौद्ध धर्मस्थल को दुनिया भर से जोड़ने के मकसद से इसका निर्माण किया गया है।

भाषा

शोभना मनीषा

मनीषा