उत्तर प्रदेश को लेकर नकारात्मक धारणा हमने खत्म की : योगी

उत्तर प्रदेश को लेकर नकारात्मक धारणा हमने खत्म की : योगी

Edited By: , October 27, 2021 / 01:15 PM IST

Yogi on Negative perception of Uttar Pradesh : लखनऊ, 26 अक्टूबर (भाषा) उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को दावा किया कि उनकी सरकार ने पूर्ववर्ती सरकारों के कार्यकाल के दौरान राज्य को लेकर लोगों में बनी ‘नकारात्मक धारणा’ को समाप्त करके उसकी ‘सम्मानजनक पहचान’ स्थापित की है।

मुख्यमंत्री ने यह भी दावा किया कि उनकी सरकार द्वारा किए गए चौतरफा विकास कार्यों और अपराध के प्रति जीरो टॉलरेंस के चलते भाजपा सरकार आगामी विधानसभा चुनाव में सत्ता के समर्थन में लहर देख रही है।

योगी ने ‘डीडी न्यूज़’ को दिए गए साक्षात्कार में कहा, ‘‘कांग्रेस, सपा और बसपा के राज में उत्तर प्रदेश को लेकर खराब धारणा बनी थी, जिसे हमारी सरकार ने पूरी तरह बदल दिया है। इससे इस राज्य को देश में सम्मानजनक पहचान हासिल करने में मदद मिली है।’’

अपनी सरकार के विकास कार्यों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा, ‘‘आज प्रदेश में पांच नए एक्सप्रेस-वे बनाए जा रहे हैं और ऐसे ही बाकी मार्गों पर काम हो रहा है। पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे लगभग बनकर तैयार है और संभवतः अगले महीने प्रधानमंत्री इसका लोकार्पण करेंगे। बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे का भी लगभग 80 प्रतिशत काम पूरा हो चुका है और दिसंबर में इसके पूर्ण हो जाने की संभावना है।’’

मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश ऐसा पहला राज्य है जहां तीन अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे संचालित हो रहे हैं और अयोध्या तथा जेवर के हवाई अड्डों पर काम चल रहा है। इसके अलावा सोनभद्र, श्रावस्ती और चित्रकूट समेत 11 हवाई अड्डों का निर्माण हो रहा है।

योगी ने कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर के दौरान गंगा नदी में बड़ी संख्या में शव मिलने संबंधी सवाल पर कहा कि ‘‘यह तो एक पुराना रिवाज है।’’

उन्होंने इस मुद्दे पर विपक्ष के हमलों को दरकिनार करते हुए कहा, ‘‘2012 से 2014 के बीच मीडिया की कई खबरों में ऐसे रिवाज के बारे में जिक्र किया गया था। इसके अलावा पत्रकारों द्वारा स्थल पर जाकर की गई रिपोर्टिंग से यह जाहिर हुआ कि यह कोई नई बात नहीं है।’’

योगी ने यह भी दावा किया कि उनकी सरकार के शासनकाल में अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई से दूसरे राज्यों के लिए एक उदाहरण स्थापित हुआ है। 2017 में जब उनकी सरकार बनी तो राज्य में पुलिस के लगभग 50 फीसद पद खाली थे जिसे उनकी सरकार ने पारदर्शी तरीके से भरा है।

लखीमपुर खीरी में पिछली तीन अक्टूबर को किसान आंदोलन के दौरान हुई हिंसा में आठ लोगों के मारे जाने के बारे में पूछे जाने पर योगी ने कहा कि उनकी सरकार इस प्रकरण में सुबूत मिलने पर सख्त कार्रवाई करेगी।

इस सवाल पर कि अन्य पार्टियों की तरह भाजपा भी क्यों जाति आधारित सम्मेलन आयोजित कर रही है, मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘वे जाति आधारित सम्मेलन नहीं हैं बल्कि समाज आधारित हैं और इनके आयोजन का मकसद यह है कि हर जाति और मत के लिए बिना किसी तुष्टीकरण के काम किया जा रहा है।’’

उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव के दौरान सत्ता विरोधी लहर की अटकलों को खारिज करते हुए योगी ने कहा, ‘‘लोग कानून व्यवस्था को बेहतर करने के लिए किए गए कार्यों को देख रहे हैं। इसके अलावा राज्य में हो रहा निवेश तथा गिरती बेरोजगारी दर भी लोगों की नजर में है।’’

उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में जनता ही जनार्दन है यह बोलती नहीं है बल्कि सही समय पर अपना फैसला देती है।

भाषा सलीम अर्पणा

अर्पणा