महाराष्ट्र के गांव का एक स्कूल विश्व के सर्वश्रेष्ठ स्कूल पुरस्कारों के अंतिम दौर में पहुंचा |

महाराष्ट्र के गांव का एक स्कूल विश्व के सर्वश्रेष्ठ स्कूल पुरस्कारों के अंतिम दौर में पहुंचा

महाराष्ट्र के गांव का एक स्कूल विश्व के सर्वश्रेष्ठ स्कूल पुरस्कारों के अंतिम दौर में पहुंचा

: , September 22, 2022 / 06:15 PM IST

(अदिति खन्ना)

लंदन, 22 सितंबर (भाषा) महाराष्ट्र के एक गांव के एक स्कूल ने बृहस्पतिवार को बताया कि वह दुनिया के सर्वश्रेष्ठ स्कूल पुरस्कार के अंतिम तीन में पहुंच गया है। समाज की प्रगति में योगदान के लिए दुनिया भर के स्कूलों में जश्न मनाने के उद्देश्य से इस पुरस्कार की शुरूआत ब्रिटेन में की गयी है।

इस स्कूल का नाम पीसीएमसी इंग्लिश मीडियम स्कूल है जो पुणे के बोपखेल में स्थित है। यह स्कूल अब ढाई लाख अमरीकी डॉलर के इस पुरस्कार के सामुदायिक सहयोग श्रेणी के पब्लिक परामर्श वोट राउंड में पहुंच गया है। अगले महीने विश्व शिक्षा सप्ताह के दौरान विजेता को यह पुरस्कार प्रदान किया जायेगा।

यह स्कूल पुणे के दूर-दराज के गांव में स्थित है और इसे सार्वजनिक-निजी भागीदारी के तौर पर एक गैर सरकारी संगठन आकांक्षा फाउंडेशन और स्थानीय सरकार के सहयोग से चलाया जाता है। इस स्कूल के अधिकतर छात्र कम आय वाले परिवार से हैं।

इस साल की शुरुआत में पुरस्कार की स्थापना करने वाले ब्रिटेन के डिजिटल मीडिया मंच टी-4 एजुकेशन ने कहा, “पीसीएमसी इंग्लिश मीडियम स्कूल स्थानीय चिकित्सकों, दुकानदारों, धार्मिक नेताओं के साथ मिलकर ऐसे कार्यक्रम तैयार करता है जो माता-पिता को वित्तीय जरूरत को पूरा करते हैं।”

एक्सेंचर, अमेरिकन एक्सप्रेस, यायासन हसनाह, टेम्पलटन वर्ल्ड चैरिटी फाउंडेशन, लेमन फाउंडेशन, डी2एल, मेल्बी गार्ड और यूनिवर्सिडैड कैमिलो जोस सेला के सहयोग से स्थापित पुरस्कार का उद्देश्य स्कूल की उन चलन को सभी के समक्ष रखना है जो अपने छात्रों के जीवन के साथ-साथ उनके समुदायों में वास्तविक बदलाव ला रहे हैं।

भाषा फाल्गुनी माधव

माधव

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)