ऑमिक्रोन के उप स्वरूप बीए.2.75 के मामले भारत जैसे कई देशों में सामने आए: डब्ल्यूएचओ |

ऑमिक्रोन के उप स्वरूप बीए.2.75 के मामले भारत जैसे कई देशों में सामने आए: डब्ल्यूएचओ

ऑमिक्रोन के उप स्वरूप बीए.2.75 के मामले भारत जैसे कई देशों में सामने आए: डब्ल्यूएचओ

: , July 7, 2022 / 10:57 AM IST

(योषिता सिंह)

संयुक्त राष्ट्र/जिनेवा, सात जुलाई (भाषा) विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के महानिदेशक टेड्रोस अधनोम घेब्रेयसस ने बताया कि कोरोना वायरस संक्रमण के स्वरूप ऑमिक्रोन के उप स्वरूप बीए.2.75 के मामले भारत जैसे कई देशों में सामने आए हैं और स्वास्थ्य निकाय इस पर नजर रख रहा है।

घेब्रेयसस ने बुधवार को एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘ दुनियाभर में पिछले दो सप्ताह में कोविड-19 के मामलों में करीब 30 प्रतिशत बढ़ोतरी हुई है। डब्ल्यूएचओ उप-क्षेत्रों में छह में से चार में पिछले सप्ताह मामलों में वृद्धि देखी गई।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ यूरोप और अमेरिका में बीए.4 और बीए.5 के मामले सामने आ रहे हैं। भारत जैसे देशों में बीए.2.75 के मामले भी सामने आए, जिन पर हम नजर बनाए हुए हैं।’’

डब्ल्यूएचओ की मुख्य वैज्ञानिक सौम्या स्वामीनाथन ने ट्विटर पर साझा किए गए एक वीडियो में कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण के स्वरूप ऑमिक्रोन के उप स्वरूप को बीए.2.75 कहा जाता है, ‘‘ सबसे पहले इसकी पुष्टि भारत में हुई थी और फिर करीब 10 देशों में इसके मामले सामने आए।’’

उन्होंने कहा कि विश्लेषण करने के लिए उप-स्वरूप के अब भी सीमित अनुक्रम उपलब्ध हैं, ‘‘लेकिन इस उप-स्वरूप में स्पाइक प्रोटीन के ‘रिसेप्टर-बाइंडिंग डोमेन’ पर कुछ उत्परिवर्तन होते हैं, जो ‘ह्यूमन रिसेप्टर’ तक पहुंचने में अहम भूमिका निभाता है। इसलिए हमें इस पर नजर रखनी होगी।’’

उन्होंने कहा कि अभी इसके बारे में कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी।

डब्ल्यूएचओ कोविड-19 वैश्विक महामारी पर साप्ताहिक रिपोर्ट पेश करता है। छह जुलाई को जारी अद्यतन रिपोर्ट के अनुसार, दुनिया भर में संक्रमण के मामलों में वृद्धि लगातार चौथे सप्ताह भी जारी रही।

रिपोर्ट के अनुसार, 27 जुलाई से तीन जुलाई के बीच 46 करोड़ मामले सामने आए। पिछले सप्ताह भी करीब इतने ही मामले सामने आए थे। इस दौरान संक्रमण से 8100 से अधिक लोगों की मौत हुई। पिछले सप्ताह की तुलना में इस सप्ताह संक्रमण से मौत के मामलों में 12 प्रतिशत की गिरावट आई है। तीन जुलाई 2022 तक दुनियाभर में संक्रमण के 54.6 करोड़ मामले सामने आ चुके थे और संक्रमण से 63 लाख से अधिक लोगों की मौत हुई थी।

रिपोर्ट के अनुसार, बीए.5 और बीए.5 के मामले भी लगातार बढ़ रहे हैं। विश्वभर में बीए.5 के मामले 83 देशों में और बीए.4 के मामले 73 देशों में सामने आ चुके हैं।

भाषा निहारिका मनीषा

मनीषा

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

#HarGharTiranga