म्यांमा की अदालत ने ऑस्ट्रेलियाई अर्थशास्त्री के खिलाफ मुकदमे की सुनवाई का स्थान बदला

म्यांमा की अदालत ने ऑस्ट्रेलियाई अर्थशास्त्री के खिलाफ मुकदमे की सुनवाई का स्थान बदला

Edited By: , September 14, 2021 / 04:45 PM IST

बैंकॉक, 14 सितंबर (एपी) म्यांमा की एक अदालत अपदस्थ की गई नेता आंग सान सू की के सलाहकार और ऑस्ट्रेलियाई अर्थशास्त्री सियान टर्नेल के खिलाफ देश के गोपनीयता कानून का उल्लंघन करने के आरोपों पर मुकदमे की सुनवाई का स्थान बदलने पर सहमत हो गई है।

सियान टर्नेल के साथ सू की और तीन पूर्व कैबिनेट मंत्रियों पर सैन्य तख्तापलट के एक महीने बाद मार्च में गोपनीयता कानून के तहत आरोप लगाए गए। म्यांमा की शीर्ष अदालत के फैसले के बाद यांगून के बजाए नेपीतॉ में मुकदमा चलेगा। टर्नेल के वकीलों ने यह जानकारी दी। टर्नेल को यांगून में गिरफ्तार किया गया था।

इस फैसले से सू की से संबंधित सारे मुकदमों की एक ही जगह सुनवाई होगी। सेना के इशारे पर दर्ज किए गए मामलों को सू की को बदनाम करने और राजनीति में उनके लौटने के मार्ग में अवरोध डालने के प्रयास के तौर पर देखा जा रहा है।

गोपनीयता कानून का उल्लंघन करने के अपराध में अधिकतम 14 साल की सजा हो सकती है। औपनिवेशिक काल के इस कानून के तहत दुश्मनों के लिए प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष तरीके से मददगार गोपनीय सूचनाओं को जमा करना, प्रकाशित करना, साझा करना अपराध है।

टर्नेल और अन्य पर लगाए गए आरोपों के संबंध में विस्तृत जानकारी उपलब्ध नहीं है। हालांकि सरकारी टेलीविजन ने सरकार के बयानों का हवाला देते हुए कहा है कि ऑस्ट्रेलियाई अर्थशास्त्री की गोपनीय वित्तीय सूचनाओं तक पहुंच थी और उन्होंने देश से भागने की कोशिश की। टर्नेल यांगून की जेल में बंद है।

सू की (76) और उनके दो सहयोगियों के खिलाफ मंगलवार को नेपीतॉ की एक अदालत में मुकदमे की सुनवाई हुई। बीमार होने के कारण एक दिन पहले सू की सुनवाई में हिस्सा नहीं ले पाई थीं। अदालत ने उन्हें हिरासत स्थल पर लौटने की अनुमति दे दी।

एपी आशीष माधव

माधव