उत्तर कोरिया यूरेनियम संवर्धन संयंत्र का विस्तार कर रहा है: विशेषज्ञ

उत्तर कोरिया यूरेनियम संवर्धन संयंत्र का विस्तार कर रहा है: विशेषज्ञ

Edited By: , September 18, 2021 / 04:04 PM IST

सियोल, 18 सितंबर (एपी) विशेषज्ञों का कहना है कि हाल की उपग्रह तस्वीरों से पता चलता है कि उत्तर कोरिया अपने मुख्य योंगब्योन परमाणु परिसर में एक यूरेनियम संवर्धन संयंत्र का विस्तार कर रहा है, जो इस बात का संकेत है कि वह बम सामग्री के उत्पादन को बढ़ावा देना चाहता है।

अमेरिका के साथ लंबे समय से निष्क्रिय परमाणु निरस्त्रीकरण कूटनीति के बीच उत्तर कोरिया ने छह महीने में अपना पहला मिसाइल परीक्षण किया जिसके बाद तनाव बढ़ गया था। इसके बाद यह आकलन सामने आया है।

मोंटेरे में ‘मिडिलबरी इंस्टीट्यूट ऑफ इंटरनेशनल स्टडीज’ के जेफरी लुईस और दो अन्य विशेषज्ञों ने एक रिपोर्ट कहा, ‘‘संवर्धन संयंत्र का विस्तार शायद इंगित करता है कि उत्तर कोरिया योंगब्योन परिसर में हथियार-स्तर के यूरेनियम का उत्पादन 25 प्रतिशत तक बढ़ाने की योजना बना रहा है।’’

रिपोर्ट में कहा गया है कि मैक्सार द्वारा ली गई उपग्रह तस्वीरें योंगब्योन में यूरेनियम संवर्धन संयंत्र से सटे एक क्षेत्र में निर्माण को दर्शाती हैं। इसमें कहा गया है कि एक सितंबर को ली गई एक उपग्रह तस्वीर में उत्तर कोरिया ने पेड़ों को हटाया और निर्माण के लिए जमीन तैयार की और एक निर्माण उत्खनन भी दिखाई दे रहा है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि 14 सितंबर को ली गई दूसरी तस्वीर में क्षेत्र को घेरने के लिए एक दीवार खड़ी की गई है, एक नींव पर काम किया गया है और नए क्षेत्र तक पहुंच प्रदान करने के लिए संवर्धन इमारत के किनारे से पैनल हटा दिए गए हैं। इसमें दावा किया गया है, ‘‘नया क्षेत्र लगभग 1,000 वर्ग मीटर में फैला है, जिसमें 1,000 अतिरिक्त सेंट्रीफ्यूज रखने के लिए पर्याप्त जगह है।’’

रिपोर्ट में कहा गया है कि 1,000 नए सेंट्रीफ्यूज के जुड़ने से संयंत्र की उच्च संवर्धित यूरेनियम का उत्पादन करने की क्षमता 25 प्रतिशत बढ़ जाएगी।

परमाणु हथियार या उच्च संवर्धित यूरेनियम या प्लूटोनियम का उपयोग करके बनाए जा सकते हैं, और उत्तर कोरिया के पास योंगब्योन में इन दोनों का उत्पादन करने की सुविधा है। पिछले महीने, योंगब्योन पर पहले की उपग्रह तस्वीरों से संकेत मिला था कि उत्तर कोरिया हथियार-स्तर के प्लूटोनियम का उत्पादन करने के लिए अन्य केन्द्रों के संचालन को फिर से शुरू कर रहा है।

कुछ अमेरिकी और दक्षिण कोरियाई विशेषज्ञों का अनुमान हैं कि उत्तर कोरिया गोपनीय ढंग से कम से कम एक अतिरिक्त यूरेनियम-संवर्धन संयंत्र चला रहा है। दक्षिण कोरिया के एक शीर्ष अधिकारी ने 2018 में संसद को बताया था कि उत्तर कोरिया का अनुमान है कि वह पहले ही 60 परमाणु हथियारों का निर्माण कर चुका है।

उत्तर कोरिया हर साल कितने परमाणु हथियार जोड़ सकता है, इसका अनुमान छह से लेकर 18 बमों तक है।

एपी

देवेंद्र शाहिद

शाहिद