युद्ध में हुए नुकसान के लिये पोलैंड ने जर्मनी से 1300 अरब डॉलर की क्षतिपूर्ति की मांग की |

युद्ध में हुए नुकसान के लिये पोलैंड ने जर्मनी से 1300 अरब डॉलर की क्षतिपूर्ति की मांग की

युद्ध में हुए नुकसान के लिये पोलैंड ने जर्मनी से 1300 अरब डॉलर की क्षतिपूर्ति की मांग की

: , November 29, 2022 / 08:39 PM IST

वारसा, तीन अक्टूबर (एपी) पोलैंड के विदेश मंत्री ने सोमवार को जर्मनी के लिए एक आधिकारिक दस्तावेज पर हस्ताक्षर किए, जिसमें द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान नाजी जर्मनों के कब्जे से हुए नुकसान के लिए करीब 1300 अरब अमेरिकी डॉलर की क्षतिपूर्ति का अनुरोध किया गया है।

जिबिगन्यू राउ ने कहा कि दस्तावेज जर्मनी के विदेश मंत्रालय को सौंपा जाएगा।

राउ ने वारसा में जर्मनी की विदेश मंत्री एनालेना बेरबॉक के साथ बैठक की पूर्व संध्या पर इस दस्तावेज पर हस्ताक्षर किए। बेरबॉक एक सुरक्षा सम्मेलन में भाग लेने के लिये यहां पहुंची हैं।

राउ ने कहा कि दस्तावेज उनके विचार को व्यक्त करता है कि दोनों पक्षों को जर्मनी के 1939-45 के दौरान कब्जे के प्रभावों को “स्थायी और जटिल, कानूनी रूप से बाध्यकारी और भौतिक तरीके से” दूर करने के लिए “बिना विलंब किए” कार्रवाई करनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि इसमें जर्मन क्षतिपूर्ति के साथ-साथ लूटी गई कलाकृतियों और अभिलेखागार के मुद्दे का समाधान करना भी शामिल होगा।

पोलैंड की दक्षिणपंथी सरकार जोर देकर कहती है कि पोलैंड को व्यापक युद्ध क्षति के लिए मुआवजा मिलना चाहिए, जबकि बर्लिन का कहना है कि उसने पोलैंड सहित प्रभावित देशों को मुआवजे का भुगतान किया है और वह अब इस मामले को बंद मानता है।

युद्ध की 83वीं वर्षगांठ पर एक सितंबर को पोलैंड की सरकार ने नुकसान पर एक विस्तृत रिपोर्ट प्रस्तुत की। रिपोर्ट में 1300 अरब अमेरिकी डॉलर के नुकसान का आकलन किया गया है।

एपी प्रशांत मनीषा

मनीषा

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)