रूस-यूक्रेन युद्ध: मैक्सिको ने मोदी, पोप फ्रांसिस, गुतारेस की सदस्यता वाली समिति बनाने का रखा प्रस्ताव |

रूस-यूक्रेन युद्ध: मैक्सिको ने मोदी, पोप फ्रांसिस, गुतारेस की सदस्यता वाली समिति बनाने का रखा प्रस्ताव

रूस-यूक्रेन युद्ध: मैक्सिको ने मोदी, पोप फ्रांसिस, गुतारेस की सदस्यता वाली समिति बनाने का रखा प्रस्ताव

: , September 23, 2022 / 10:37 AM IST

(ललित के झा)

पिट्सबर्ग, 23 सितंबर (भाषा) मैक्सिको ने रूस एवं यूक्रेन के बीच स्थायी शांति स्थापित करने की कोशिश करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पोप फ्रांसिस और संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंतोनियो गुतारेस की सदस्यता वाली एक समिति के गठन का प्रस्ताव रखा है।

यूक्रेन पर न्यूयॉर्क में बृहस्पतिवार को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की एक चर्चा के दौरान मैक्सिको के विदेश मंत्री मार्सेलो लुइस एब्रार्ड कासौबोन ने यह प्रस्ताव रखा।

प्रधानमंत्री मोदी ने उज्बेकिस्तान के समरकंद में शंघाई सहयोग संगठन की 22वीं बैठक के इतर रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से मुलाकात की थी और उनसे कहा था कि ‘‘आज का दौर युद्ध का दौर नहीं है।’’

मोदी के बयानों का अमेरिका, फ्रांस और ब्रिटेन समेत पश्चिमी देशों ने स्वागत किया था।

मैक्सिको के विदेश मंत्री ने कहा, ‘‘अपने शांतिप्रिय रुख के अनुसार, मैक्सिको का मानना है कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय को शांति स्थपित करने के लिए अपने सर्वश्रेष्ठ प्रयास करने की कोशिश करनी चाहिए।

उन्होंने कहा, ‘‘मैं इस संबंध में संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस के मध्यस्थता के प्रयासों को मजबूत करने के लिए आपके सामने मैक्सिको के राष्ट्रपति आंद्रेस मैनुएल लोपेज ओब्राडोर का एक प्रस्ताव रखता हूं कि अन्य राष्ट्राध्यक्षों और सरकारों की भागीदारी वाली ‘यूक्रेन वार्ता एवं शांति समिति’ का गठन किया जाए, जिसमें यदि संभव हो सके तो नरेंद्र मोदी और पोप फ्रांसिस को शामिल किया जाए।’’

मंत्री ने कहा कि इस समिति का लक्ष्य वार्ता के लिए नया तंत्र बनाना और भरोसा कायम करने, तनाव कम करने और स्थायी शांति का मार्ग खोलने के उद्देश्य से मध्यस्थता के लिए उचित स्थान बनाना होगा।

भाषा

सिम्मी मनीषा

मनीषा

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)