सिंगापुर में बुजुर्गों की देखभाल के लिए विदेशी नर्सों की तलाश में आ रही मुश्किल : मंत्री |

सिंगापुर में बुजुर्गों की देखभाल के लिए विदेशी नर्सों की तलाश में आ रही मुश्किल : मंत्री

सिंगापुर में बुजुर्गों की देखभाल के लिए विदेशी नर्सों की तलाश में आ रही मुश्किल : मंत्री

: , November 29, 2022 / 08:21 PM IST

(गुरदीप सिंह)

सिंगापुर, छह अक्टूबर (भाषा) सिंगापुर में बुजुर्गों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है और उनकी देखभाल में स्थानीय नर्सों की मदद के लिए विदेशी नर्सों की नियुक्ति में मुश्किल आ रही है। यह जानकारी स्वास्थ्य मंत्री ओंग यि कुंग ने संसद में दी।

उन्होंने बताया कि वर्ष 2030 तक स्वास्थ्य देखभाल के लिए और 24 हजार नर्सों की जरूरत होगी।

कुल पंजीकृत नर्सों में सिंगापुर के नागरिकों और वहां स्थायी तौर पर रहने वाली नर्सों की हिस्सेदारी 72 प्रतिशत है। वहीं, देश में कार्यरत कुल नर्सों में से भी 63 प्रतिशत इसी श्रेणी में आती हैं। बाकी नर्सें फिलीपीन, मलेशिया, चीन, भारत, म्यांमा और अन्य देशों की हैं।

ओंग ने बुधवार को संसद में बताया, ‘‘सिंगापुर में नर्सों और स्वास्थ्य कर्मियों की मौजूदा संख्या 58 हजार है। स्वास्थ्य मंत्रालय का आकलन है कि वर्ष 2030 तक देश में 82 हजार नर्सों और स्वास्थ्य कर्मियों की जरूरत पड़ेगी।’’

मंत्री ने स्वीकार ने किया कि नर्सों के लिए वैश्विक स्तर पर प्रतिस्पर्धा है। उन्होंने कहा कि उनका मंत्रालय नामांकित सांसद और स्तन शल्यचिकित्सक तान यिआ स्वाम के इस सुझाव के समर्थन में है कि अच्छा प्रदर्शन करने वाली नर्सों को स्थायी निवास की अनुमति दी जाए।

ओंग ने रेखांकित किया कि वर्ष 2030 तक सिंगापुर का हर चौथा निवासी 65 साल से अधिक उम्र का होगा। मौजूदा समय में देश का हर छठा व्यक्ति इस आयु वर्ग में आता है।

भाषा धीरज अविनाश पारुल

पारुल

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)