व्हाइट हाउस से बाइडन के भाषणों का हिंदी, एशियाई भाषाओं में अनुवाद का अनुरोध |

व्हाइट हाउस से बाइडन के भाषणों का हिंदी, एशियाई भाषाओं में अनुवाद का अनुरोध

व्हाइट हाउस से बाइडन के भाषणों का हिंदी, एशियाई भाषाओं में अनुवाद का अनुरोध

: , December 9, 2022 / 12:43 PM IST

(ललित के झा)

वाशिंगटन, नौ दिसंबर (भाषा) अमेरिका की घरेलू राजनीति में एशियाई-अमेरिकियों की बढ़ती प्रभावशाली भूमिका को देखते हुए राष्ट्रपति द्वारा गठित एक आयोग ने व्हाइट हाउस से आग्रह किया है कि राष्ट्रपति जो बाइडन के सभी भाषणों का हिंदी और क्षेत्र की कई अन्य भाषाओं में अनुवाद किया जाए जो अधिक से अधिक अमेरिकियों द्वारा बोली जाती हैं।

राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति द्वारा दिए गए भाषण केवल अंग्रेजी में उपलब्ध हैं और इस प्रकार 2.51 करोड़ से अधिक सीमित अंग्रेजी जानने वाली आबादी के लिए दुर्गम हैं।

वर्तमान में बाइडन के भाषणों का अनुवाद उनकी भाषाओं में नहीं किया जा रहा है।

एशियाई-अमेरिकियों, मूल निवासी हवाई और प्रशांत द्वीप समूह (एनएचपीआई) पर राष्ट्रपति के सलाहकार आयोग ने इस सप्ताह अपनी बैठक के दौरान यह सिफारिश की। बैठक के दौरान भारतीय-अमेरिकी समुदाय के नेता अजय जैन भूटोरिया द्वारा एक प्रस्ताव रखा गया था, जिसे आयोग ने स्वीकार कर लिया।

सिलिकॉन वैली से ताल्लुक रखने वाले सफल उद्यमी भूटोरिया अब एशियाई अमेरिकियों और एनएचपीआई पर राष्ट्रपति के सलाहकार आयोग के सदस्यों में से एक हैं।

बैठक के दौरान, आयोग ने सिफारिश की कि इस प्रस्ताव के तीन महीने के भीतर, अमेरिका के राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति के प्रमुख महत्वपूर्ण भाषणों का अनुवाद कई एशियाई अमेरिकी और एनएचपीआई भाषाओं में किया जाना चाहिए और व्हाइट हाउस की वेबसाइट पर जल्द से जल्द उन्हें उपलब्ध कराया जाना चाहिए।

आयोग द्वारा अनुशंसित भाषाएं हिंदी, चीनी, कोरियाई, वियतनामी, तगालोग और मंदारिन हैं।

भाषा

प्रशांत नरेश

नरेश

नरेश

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)