वैश्विक नेताओं ने सुरक्षा परिषद में सुधार की अमेरिका की मांग का समर्थन किया |

वैश्विक नेताओं ने सुरक्षा परिषद में सुधार की अमेरिका की मांग का समर्थन किया

वैश्विक नेताओं ने सुरक्षा परिषद में सुधार की अमेरिका की मांग का समर्थन किया

: , September 23, 2022 / 11:00 AM IST

(ललित के झा)

पिट्सबर्ग, 23 सितंबर (भाषा) वैश्विक नेताओं ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) में सुधार तथा भारत को उसका स्थाई सदस्य बनाए जाने की अमेरिका की मांग का समर्थन किया है।

जापान के प्रधानमंत्री फुमिओ किशिदा ने सुरक्षा परिषद सहित पूरे संयुक्त राष्ट्र में सुधार पर जोर दिया। साथ ही उन्होंने ‘‘ संयुक्त राष्ट्र के कार्यों को मजबूत करते हुए संयुक्त राष्ट्र चार्टर के दृष्टिकोण तथा सिद्धांतों की ओर लौटने’’ की बात कही जिनमें निरस्त्रीकरण और परमाणु अप्रसार शामिल हैं।

संयुक्त राष्ट्र महासभा के वार्षिक सत्र को संबोधित करते हुए पुर्तगाल के प्रधानमंत्री एंटोनियो कोस्टा ने कहा, ‘‘ हमें प्रतिनिधित्व करने वाली, मुस्तैद तथा क्रियाशील सुरक्षा परिषद की जरूरत है जो बिना किसी दबाव में आए 21वीं सदी की चुनौतियों का सामना कर सके और जिसकी कार्रवाइयों की संयुक्त राष्ट्र के सदस्य देश समीक्षा कर सकें।’’

उन्होंने कहा कि आज का युग 1945 के उस वक्त से काफी अलग है जब 51 देशों के प्रतिनिधि सेंट फ्रांसिस्को में मिले थे और संयुक्त राष्ट्र अस्तित्व में आया था।

कोस्टा ने ऐसी सुरक्षा परिषद की मांग की जहां, ‘‘ अफ्रीकी उपमहाद्वीप और कम से कम ब्राजील तथा भारत की सदस्यता हो।’’

यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने भी सुरक्षा परिषद में सुधार का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा, ‘‘ जब वीटो के अधिकार की बात आती है तो अफ्रीका, लातिन अमेरिका, अधिकांश एशिया, मध्य और पूर्वी यूरोप में काफी असमानता है, उन्हें यह अधिकार कभी नहीं मिला।’’

जर्मनी के चांसलर ओलाफ शॉल्ज ने अपने संबोधन में कहा कि उनका देश कई वर्षों से सुधार और इसके विस्तार पर जोर दे रहा है।

इटली, फिलीपीन्स और मंगोलिया के नेताओं ने भी सुरक्षा परिषद में सुधार की जरूरत पर जोर दिया।

भाषा

शोभना मनीषा

मनीषा

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)