भारत और ब्रिटेन के लिए परस्पर लाभदायक एफटीए लाना चाहते हैं: ऐनी मेरी ट्रेवेलियन |

भारत और ब्रिटेन के लिए परस्पर लाभदायक एफटीए लाना चाहते हैं: ऐनी मेरी ट्रेवेलियन

भारत और ब्रिटेन के लिए परस्पर लाभदायक एफटीए लाना चाहते हैं: ऐनी मेरी ट्रेवेलियन

: , January 14, 2022 / 12:11 PM IST

नयी दिल्ली, 14 जनवरी (भाषा) ब्रिटेन की अंतरराष्ट्रीय व्यापार मामलों की मंत्री ऐनी मेरी ट्रेवेलियन ने कहा कि भारत और ब्रिटेन आर्थिक संबंधों को बढ़ावा देने के लिए मुक्त व्यापार समझौता करना चाहते हैं जो दोनों देशों के लिए परस्पर लाभदायक है।

ट्रेवेलियन ने उम्मीद जताई कि दोनों पक्ष इस समझौते के लिए इस साल के अंत या 2023 की शुरुआत तक वार्ता पूरी कर लेंगे।

वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने 13 जनवरी को यहां मेरी ट्रेवेलियन से मुलाकात की थी और प्रस्तावित मुक्त व्यापार समझौते (एफटीए) पर बातचीत की औपचारिक शुरुआत की थी। इस समझौते से 2030 तक द्विपक्षीय कारोबार दोगुना होने में मदद मिलेगी और दोनों देशों के बीच आर्थिक संबंधों को बढ़ावा मिलेगा।

दोनों ही पक्ष दिसंबर 2022 तक वार्ता को पूरा कर लेना चाहते हैं और जल्द ही अंतरिम समझौता करना चाहते हैं।

ट्रेवेलियन ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा, ‘‘हम एफटीए लाना चाहते हैं जो दोनों ही देशों के लिए पारस्परिक लाभदायक हो।’’ उन्होंने कहा कि दोनों पक्षों के विचार सकारात्मक हैं तथा दोनों ही पक्षों से निवेश को बढ़ावा देना इस समझौते का अभिन्न अंग होगा।

उन्होंने कहा कि दोनों ही देशों के पास नई आर्थिक साझेदारी बनाने का ‘स्वर्णिम अवसर’ है क्योंकि भारत की अर्थव्यवस्था तेजी से बढ़ेगी।

गोयल ने कहा कि इस समझौते से चमड़ा, कपड़ा, आभूषण और प्रसंस्कृत कृषि उत्पादों के भारत से निर्यात को बढ़ावा देने में मदद मिलेगी।

भारत की ओर से 2020-21 में ब्रिटेन को निर्यात 8.15 अरब डॉलर जबकि आयात 4.95 अरब डॉलर रहा।

भाषा

मानसी

मानसी

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

#HarGharTiranga