छत्तीसगढ़ की बेटी ने रचा कीर्तिमान! नासा के इस अभियान में ​हिस्सा लेगी आत्मानंद स्कूल की ये छात्रा, CM ने दी बधाई |

छत्तीसगढ़ की बेटी ने रचा कीर्तिमान! नासा के इस अभियान में ​हिस्सा लेगी आत्मानंद स्कूल की ये छात्रा, CM ने दी बधाई

नासा का यह प्रोजेक्ट इसरो के साथ अंतर्राष्ट्रीय खगोलीय खोज सहयोग कार्यक्रम के अंतर्गत साझेदारी का हिस्सा है। रितिका ध्रुव की सफलता पर सीएम भूपेश बघेल ने बधाई संदेश प्रेषित किया है।

Edited By: , October 2, 2022 / 02:49 PM IST

Chhattisgarh student in NASA project : महासमुंद। छत्तीसगढ़ के सिरपुर की रितिका ध्रुव का चयन नासा के सिटीजन साईंस प्रोजेक्ट के अंतर्गत क्षुद्र ग्रह खोजने वाले अभियान के लिए हुआ है। रितिका ध्रुव नयापारा के स्वामी आत्मानंद शासकीय इंग्लिश मीडियम स्कूल की कक्षा 11वीं की छात्रा है। नासा का यह प्रोजेक्ट इसरो के साथ अंतर्राष्ट्रीय खगोलीय खोज सहयोग कार्यक्रम के अंतर्गत साझेदारी का हिस्सा है। रितिका ध्रुव की सफलता पर सीएम भूपेश बघेल ने बधाई संदेश प्रेषित किया है।

गौरतलब है कि सोसाइटी फॉर स्पेस एजुकेशन रिसर्च एंड डेवलपमेंट (SSERD) ने क्षुद्र ग्रह खोज अभियान की प्रक्रिया के माध्यम से छात्रों को प्रोत्साहित करने को कहा है। इस प्रोजेक्ट के लिए देशभर से 6 स्कूली विद्यार्थियों को चुना गया है। इसमें छत्तीसगढ़ के सिरपुर की रहने वाली और महासमुंद के स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल की छात्रा रितिका ध्रुव का नाम भी शामिल है।

सीएम भूपेश ने दी शुभकामनाएं

सीएम भूपेश बघेल और स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने रितिका की इस सफलता पर उन्हें बधाई और शुभकामनाएं दी है। छात्रा रितिका ध्रुव बचपन से ही विज्ञान के प्रति रूचि रखती रही है। कक्षा 8वीं में रहने के दौरान उसने पहली बार अंतरिक्ष प्रश्नोत्तरी स्पर्धा में हिस्सा लिया था। इसके बाद वे लगातार विज्ञान संबंधी गतिविधियों में प्रतिभागी बनती रही। नासा के प्रोजेक्ट के लिए जब आवेदन आमंत्रित किया गया, तब निर्धारित प्रारूप में रितिका ने भी आवेदन करते हुए अपना प्रोजेक्ट रखा। चयन के स्तरों में पहले उन्होंने बिलासपुर में विषय संबंधी प्रश्नोत्तरी प्रतिस्पर्धा में हिस्सा लिया तो इसके बाद भिलाई स्थित आईआईटी में अपनी प्रस्तुति दी। फिर जाकर रितिका को इसरो के श्री हरिकोटा (आंध्रप्रदेश) सेंटर में प्रशिक्षण के लिए आमंत्रित किया गया।

देश के इन 6 स्टूडेंट्स का हुआ चयन

इस परियोजना में रितिका के साथ देश के छह स्कूली विद्यार्थियों का चयन हुआ है। जिनमें वोरा विघ्नेश (आंध्रप्रदेश), वेम्पति श्रीयेर (आंध्रप्रदेश), ओलविया जॉन (केरल), के. प्रणीता (महाराष्ट्र) और श्रेयस सिंह (महाराष्ट्र) शामिल हैं। इन विद्यार्थियों ने अंतरिक्ष के वैक्यूम में ब्लैक होल से ध्वनि की खोज विषय पर एक प्रस्तुति दी थी। इसमें स्वामी आत्मानंद शासकीय इंग्लिश मीडियम स्कूल नयापारा महासमुंद की छात्रा रितिका ने ध्रुव अपनी टीम का प्रतिनिधित्व किया और बहुत अच्छा प्रदर्शन किया। जज पैनल में डॉ. बेलवर्ड (नासा), डॉ. जोनाथ (इसरो) और डॉ. ए. राजराजन (सतीश धवन अंतरिक्ष केन्द्र) शामिल थे।

जजों की पूरी टीम ने रितिका ध्रुव को बधाई दी और उन्हें उन्हें SDSC में अधिक जानने के लिए आमंत्रित किया। इसी क्रम मे रितिका ध्रुव प्रशिक्षण के लिए 1 अक्टूबर से 6 अक्टूबर तक सतीश धवन स्पेस सेंटर श्री हरिकोटा आंध्रप्रदेश में प्रशिक्षण लेने पहुंची। अगले चरण का प्रशिक्षण नवंबर में बेंगलुरु इसरो में क्षुद्र ग्रह प्रशिक्षण शिविर में भाग लेंगी।

read more: Bombay Times Fashion Week 2022: लाडली संग रैंप पर उतरी ‘खल्लास गर्ल’ का दिखा स्टनिंग लुक, देखें तस्वीरें

read more:  Electricity Bill : कोयले की महंगाई का हवाला देकर बढ़ाया FCA | 10पैसे/ यूनिट की बढ़ोतरी

read more:  Swachh Survekshan Awards : लगातार छठी बार देश का सबसे स्वच्छ शहर बना इंदौर | मध्यप्रदेश भी आया अव्वल