बच्ची से रेप के बाद हत्या : राहुल गांधी ने पीड़ित परिवार से की मुलाकात, कांग्रेस ने दोषियों के खिलाफ मृत्युदंड की मांग की

राहुल ने बच्ची के परिवार से मुलाकात की, कांग्रेस ने दोषियों के लिए मृत्युदंड की मांग की | rahul gandhi on delhi gang rape and murder case: Rahul Gandhi meets victim's family Congress demands death penalty against the culprits

Edited By: , August 4, 2021 / 07:27 PM IST

rahul gandhi on delhi gang rape and murder case | नई दिल्ली, चार अगस्त । कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को यहां उस नौ वर्षीय बच्ची के माता-पिता से मुलाकात कर न्याय दिलाने के लिए उनके साथ खड़े रहने और पूरी मदद का भरोसा दिलाया जिसकी पिछले दिनों संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। बच्ची के परिवार ने उसकी दुष्कर्म के बाद हत्या किए जाने का आरोप लगाया है। कांग्रेस ने इस मामले की त्वरित जांच और दोषियों के लिए मौत की सजा की मांग की है। राहुल गांधी ने दिल्ली छावनी इलाके में पहुंचकर इस परिवार से मुलाकात की और न्याय दिलाने के लिए उनके साथ खड़े रहने का भरोसा दिलाया। इस मौके पर कांग्रेस के कई नेता और कार्यकर्ता भी मौजूद थे। राहुल गांधी ने कहा, ‘‘मैंने उनसे कहा है कि न्याय मिलने तक राहुल गांधी उनके साथ खड़ा रहेगा और हम एक इंच भी पीछे नहीं हटेंगे।’’जब पत्रकारों ने पूछा कि इस घटना के लिए वह किसे जिम्मेदार मानते हैं तो कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘मैं सिर्फ यह जानता हूं कि मेरा काम इस परिवार की मदद करने का है।’’इससे पहले उन्होंने बच्ची के माता-पिता से मुलाकात की तस्वीर साझा करते हुए ट्वीट किया, ‘‘माता-पिता के आंसू सिर्फ़ एक बात कह रहे हैं- उनकी बेटी, देश की बेटी न्याय की हक़दार है। और न्याय के लिए इस रास्ते पर मैं उनके साथ हूं।’

ये भी पढ़ें- महाराष्ट्र: नशे की हालत में महिला सड़क पर बैठी, यातायात प्रभावित 

कांग्रेस के दिल्ली प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘ सबसे पहले राहुल गांधी ने इस बच्ची के लिए आवाज उठाई और परिवार से मिलने पहुंचे। बच्ची की मां ने राहुल को सारी बात बताई। राहुल गांधी ने भी परिवार के लिए न्याय की बात की है।’’ उन्होंने सवाल किया, ‘‘हर बात पर ट्वीट करने वाले प्रधानमंत्री ने इस बच्ची के लिए ट्वीट क्यों नहीं किया?’’ गोहिल ने बताया कि इस घटना को लेकर कांग्रेस दिल्ली के हर विधानसभा क्षेत्र में कैंडल मार्च और प्रार्थना सभा का आयोजन करेगी। उन्होंने कहा, ‘‘हम राजनीति नहीं कर रहे हैं। हम सिर्फ बच्ची के लिए इंसाफ चाहते हैं।’’ दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौधरी अनिल कुमार ने कहा, ‘‘स्थानीय लोगों का कहना है कि इस घटना के आरोपी पर पहले भी इस तरह के आरोप लगे हैं। अगर ऐसा है तो पुलिस क्या कर रही थी? अगर पुलिस पहले ही इस व्यक्ति के खिलाफ कार्रवाई करती तो इस बच्ची के साथ यह दरिंदगी नहीं होती।’’

ये भी पढ़ें- विवादित विधेयक विधानसभा में फिर पेश करने के गोवा सरकार के कदम की विपक्ष ने आलोचना की 

कुमार ने कहा, ‘‘निर्भया की घटना के बाद राहुल गांधी और गांधी परिवार ने उस पीड़िता के परिवार को न्याय दिलाया और मदद की। 2014 के बाद महिलाओं से दुष्कर्म के हजारों मामले सामने आए हैं। केंद्र सरकार और दिल्ली सरकार के झूठे विज्ञापनों और दावों के बावजूद ऐसे मामले बढ़ते जा रहे हैं।’’ उन्होंने मांग की, ‘‘इस मामले के मुकदमे की त्वरित जांच की जाए, मामला त्वरित निपटान अदालत (फास्ट ट्रैक कोर्ट) में चलाया जाए और पीड़ित परिवार को जल्द न्याय मिले। दोषियों को मौत की सजा होनी चाहिए। दिल्ली में अनुसूचित जाति-जनजाति आयोग का गठन भी हो जाए ताकि दलित समाज के लोग उसके समक्ष अपनी बात रख सकें।’’

Read More: T20 वर्ल्ड कप में भारत-पाकिस्तान के बीच दिलचस्प होगी भिड़ंत.. देखिए कब और कहां होंगे मैच

अनिल कुमार ने दिल्ली मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधते हुए कहा, ‘‘केजरीवाल ने दिल्ली को सिंगापुर, लंदन और पेरिस की तरह बनाने का वादा किया। दिल्ली में आधारभूत अवसंरचना का कितना विकास हुआ, सबको पता है। लेकिन महिलाओं के साथ दुष्कर्म के मामले जरूर बढ़े हैं।’’ गौरतलब है कि दिल्ली छावनी इलाके में नौ वर्षीय बच्ची की पिछले दिनों संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। उसके माता पिता ने आरोप लगाया है कि उनकी बच्ची से दुष्कर्म कर उसकी हत्या कर दी गई। उनका यह भी आरोप है कि दक्षिण पश्चिम दिल्ली के पुराने नांगल गांव में श्मशान घाट के पुजारी ने उनकी सहमति के बिना बच्ची का अंतिम संस्कार भी करा दिया। पुलिस ने बताया कि एक पुजारी समेत चार लोगों को घटना के संबंध में गिरफ्तार किया गया है।