Hanuman Jayanti procession allowed with 16 conditions, 600 policemen will be deployed

16 शर्तों के साथ हनुमान जयंती के जुलूस की इजाजत, 600 पुलिसकर्मी होंगे तैनात, ड्रोन से मॉनिटरिंग होगी

राजधानी भोपाल में हनुमान जयंती के जुलूस निकालने को लेकर प्रशासन हाई अलर्ट पर है, Hanuman Jayanti procession allowed :

Edited By :   Modified Date:  April 3, 2023 / 02:15 PM IST, Published Date : April 15, 2022/8:18 am IST

भोपाल। Hanuman Jayanti procession allowed : राजधानी भोपाल में हनुमान जयंती के जुलूस निकालने को लेकर प्रशासन हाई अलर्ट पर है। वहीं आज कुछ शर्तें लागू की गई है।​ जिसके मुताबिक कोई भी समिति प्रशासन की अनुमति के बिना जुलूस नहीं निकाल सकेगी।

यह भी पढ़ें:  ऐसा है प्रदेश की शिक्षा का हाल! प्राइमरी-मिडिल स्कूलों के करीब 35 फीसदी बच्चे नहीं पढ़ पाते अपनी ही कक्षा की किताब

वहीं जुलूस निकालने वाले आयोजकों को पुलिस की 16 शर्तों को पालन करना होगा। बता दें कि पुराने शहर के इतवारा-बुधवारा बेहद संवेदनशील इलाके हैं। यहां कुछ नियमों के तहत जुलूस निकालने की अनुमति प्रशासन ने दी है। जैसा कि किसी दूसरे धर्म-संप्रदाय के लोगों को ठेस पहुंचाने वाले आपत्तिजनक नारे, बैनर-पोस्टर नहीं लगाए जाएंगे। अव्यवस्था होने पर आयोजक को जिम्मेदार माना जाएगा। इसके लिए उन पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें:  सुबह-शाम सिर्फ दो घंटे खुलेंगे दूध, सब्जी, राशन और दवा की दुकानें, सिर्फ महिलाएं निकल सकेंगी घर से बाहर, प्रशासन का निर्देश

Hanuman Jayanti procession allowed  : डीजे पर बजने वाले गानों की लिस्ट देनी होगी। जुलूस में त्रिशूल-गदा को छोड़कर किसी तरह के हथियार साथ नहीं रखेंगे। आयोजक पुलिस के साथ जुलूस में आगे चलेंगे। वहीं जुलूस के दौरान 600 पुलिसकर्मी तैनात होंगे, ड्रोन से मॉनिटरिंग होगी। बता दें कि बुधवार को खरगोन दंगे को लेकर भोपाल के शहर काजी मुश्ताक अली नदवी के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल ने गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा से मिलकर ज्ञापन सौंपा था।

यह भी पढ़ें: UP की प्रचंड जीत में अहम भूमिका निभाने वाले प्रदेश के नेताओं को फिर बड़ी जिम्मेदारी सौंपेगी भाजपा! अब गुजरात में तैनाती की तैयारी

दो लोगों के खिलाफ केस दर्ज
इधर मंगलवारा पुलिस ने सोशल मीडिया में अफवाह फैलाने वाले दो लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। 15 लोगों को बांड ओवर किया गया है। पुलिस इन सभी त्यौहार के लिए हर समाज के प्रमुख लोगों के साथ मीटिंग कर रही है।

 

 
Flowers