‘कोहली से कप्तानी छुड़वाई गई.. खुद ने नहीं छोड़ी’.. पाकिस्तानी दिग्गज खिलाड़ी ने दिया बयान.. वीडियो वायरल

'कोहली से कप्तानी छुड़वाई गई.. खुद ने नहीं छोड़ी'.. पाकिस्तानी दिग्गज खिलाड़ी ने दिया बयान.. वीडियो वायरल

: , January 23, 2022 / 11:19 AM IST

नई दिल्ली। पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने बीसीसीआई और विराट कोहली के बीच जारी कप्तानी विवाद पर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि कोहली ने कप्तानी छोड़ी नहीं, उनसे छुड़वाई गई।

पढ़ें- रेल यात्री दें ध्यान: 1 हजार से ज्‍यादा ट्रेनें रद्द, सफर पर निकलने से पहले ऐसे चेक करें अपनी ट्रेन

मस्कट में लीजेंड्स क्रिकेट लीग में एशिया लायंस की तरफ से खेल रहे शोएब अख्तर ने पत्रकारों से बातचीत में कहा, “विराट कोहली ने खुद कप्तानी नहीं छोड़ी है। उन्हें ऐसा करने के लिए मजबूर किया गया है। यह सब जानते हैं। उनके लिए वक्त फिलहाल अच्छा नहीं चल रहा है। लेकिन वो मानसिक तौर पर मजबूत खिलाड़ी हैं। उनकी काबिलियत पर शायद ही किसी को शक होगा। वो महान क्रिकेटर हैं। उनके लिए भी अचानक यह सब होना किसी झटके से कम नहीं है।”

पढ़ें- बिना परीक्षा पा सकते हैं NTPC में इन पदों पर नौकरी, 2 लाख मिलेगी सैलरी.. देखिए डिटेल

विराट की गिनाई खामिया
अख्तर ने विराट कोहली के खराब फॉर्म को लेकर कहा,”वो बॉटम हैंड से ज्यादा खेलते हैं और जब आउट ऑफ फॉर्म होते हैं तो यह परेशानी और ज्यादा दिखती है। लेकिन वो बड़े बल्लेबाज हैं और उन्होंने काफी कुछ हासिल किया है। मुझे विश्वास है कि वो वापसी कर लेंगे। उन्हें अब इस विवाद को भुलाकर सिर्फ बल्लेबाजी पर ध्यान लगाना चाहिए। बड़ा खिलाड़ी ही गिरता है। उनके लिए भी यह मौका है खुद को और बेहतर साबित करने का। उन्हें सारी कड़वाहट भुलाकर आगे बढ़ना चाहिए।”

पढ़ें- पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल कोरोना संक्रमित.. बुखार आने के बाद अस्पताल में किए गए भर्ती

विराट कोहली ने हाल ही में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज गंवाने के बाद इस फॉर्मेट की कप्तानी भी छोड़ दी। इससे पहले, उन्होंने सितंबर में टी20 टीम की कप्तानी से हटने का फैसला लिया था। इसके बाद, बीसीसीआई ने दक्षिण अफ्रीका दौरे पर रवाना होने से ठीक पहले उनसे वनडे की कप्तानी छीन ली थी। उनकी जगह रोहित शर्मा को यह जिम्मेदारी सौंपी गई थी। इसके पीछे बोर्ड ने दलील थी कि सेलेक्टर्स व्हाइट बॉल क्रिकेट में एक ही कप्तान चाहते हैं। इसलिए यह फैसला लिया गया।

पढ़ें- ‘एक स्कूल, एक खेल’ नीति होगी लागू.. सैनिक स्कूल सोसाइटी की मान्यता के लिए 230 स्कूलों ने किया आवेदन