दांत से काटकर दे दिया जख्म, फिर भी रवि दहिया ने नहीं छोड़ी गर्दन, रेसलर की करतूत पर भड़के लोग

दांत से काटकर दे दिया जख्म, फिर भी रवि दहिया ने नहीं छोड़ी गर्दन, रेसलर की करतूत पर भड़के लोग Wounded with teeth, yet Ravi Dahiya did not leave his neck, people were furious at the wrestler's handiwork

: , August 5, 2021 / 09:37 AM IST

TOKYO OLYMPIC टोक्यो, जापान। कुश्ती में दांवपेच के साथ खेल भावना भी बहुत जरुरी है। टोक्यो ओलंपिक में बुधवार को खेले गए सेमीफाइनल मुकाबले में विपक्षी पहलवान की ओर से खेल भावना नहीं दिखी।

पढ़ें- भारत की विजयी शुरुआत, 41 साल बाद भारत ने हॉकी में जीता मेडल, 4 दशक का सूखा खत्म

TOKYO OLYMPIC 23 वर्षीय दहिया कजाखिस्तान के नूरिस्लाम सनायेव के खिलाफ जब 7-9 से पीछे चल रहे थे, तभी उन्होंने विक्ट्री बाई फॉल के जरिए अपनी जीत सुनिश्चित कर ली।

पढ़ें- भारत की दमदार शुरुआत, विनेश फोगाट ने रेसलर सोफिया मैग्डालेना को 7-1 से हराया

हालांकि इस दौरान कजाखिस्तान का पहलवान रवि दहिया को अपने ऊपर से हटाने के लिए लगातार उनके हाथ को काटता रहा, लेकिन भारतीय खिलाड़ी डटा रहा। ये फोटोज सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो रहे हैं।

पढ़ें- आज से 9वीं और 10वीं के स्कूल 50 फीसदी के साथ खुलेंगे.. 12वीं की कोचिंग क्लासेस भी होंगी शुरू

कुश्ती के लिहाज से भारत के लिए बुधवार का दिन बेहद शानदार रहा क्योंकि फ्रीस्टाइल पहलवान रवि कुमार दहिया ने पुरुषों के 57 किग्रा वर्ग में फाइनल के लिए क्वालीफाई कर लिया।