ban on Marriage functions, Schools Colleges also Closed in this Country

शादी समारोह पर लगी पाबंदी, स्कूल-कॉलेज बंद, बाजार भी हुआ टोटल लॉक, कोरोना संक्रमण के चलते यहां की सरकार ने लिया फैसला

शादी समारोह पर लगी पाबंदी, स्कूल-कॉलेज बंद, बाजार भी हुआ टोटल लॉक! ban on Marriage functions, Schools Colleges also Closed in this Country

Edited By: , April 30, 2022 / 11:08 AM IST

बीजिंग: ban on Marriage functions चीन सहित दुनिया के कई देशों में कोरोना संक्रमण ने एक बार फिर जमकर तबाही मचाई है। यहां के कई शहरों में लॉकडाउन लगा दिया गया है। हालांकि यहां की सरकार ने जीरो कोविड पॉलिसी लागू कर रखी है, लेकिन फिर भी हालात काबू से बाहर होते नजर आ रहे हैं। हालात को देखते हुए अब सरकार ने शादी, अंतिम संस्कार पर पाबंदी लगा दी है और स्कूल-कॉलेजों को भी बंद करने का आदेश जारी किया है। सख्ती का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि वर्तमान में चीन के 27 शहरों में लॉकडाउन लगा हुआ है। इन शहरों में रहने वाली 16.5 करोड़ की आबादी अपने-अपने घरों में कैद है।

Read More: ‘राम धूर्त व्यक्ति थे…सीता को फंसाया…अच्छे इंसान थे रावण’ वायरल हुआ महिला महिला असि​स्टेंट प्रोफेसर का ऑडियो

ban on Marriage functions इनमें सबसे बुरी स्थिति चीन की आर्थिक राजधानी शंघाई और राजनीतिक राजधानी बीजिंग की है, यहां लोगों का हफ्ते में तीन बार टेस्ट किया जा रहा है। वहीं, सवा दो करोड़ की आबादी वाले चीन के बीजिंग में सभी स्कूल बंद कर शादी और अंतिम संस्कार पर रोक लगाई है।

Read More: महंगाई का एक और झटका.. फिर बढ़े सीएनजी गैस के दाम, जानिए नए रेट 

महामारी के दौरान, चीन अपनी जीरो कोविड पॉलिसी पर अड़ा हुआ है। इसके तहत वायरस को रोकने के लिए लॉकडाउन, मास टेस्टिंग, क्वारंटीन और सीमाएं बंद करने जैसे कठोर कदम उठाए जा रहे हैं, लेकिन अत्यधिक संक्रामक ओमीक्रॉन वेरिएंट के कारण तेजी से बढ़ते मामलों ने चीन की इस पॉलिसी पर ही सवालिया निशान लगा दिए हैं। कोरोना वायरस तेजी से चीन के अलग-अलग प्रांत और शहरों में फैलता जा रहा है। ऐसे में चीन की जीरो कोविड पॉलिसी के कड़े प्रतिबंधों का असर दिखाई नहीं दे रहा। वहीं, इन प्रतिबंधों के कारण लोग भूखों मरने को मजबूर हैं।

Read More: भाई के लिए बहन बनी दूल्हा, लेकर गई बारात, रीति रिवाज से सात फेरे लेकर विदा कर लाई भाभी

सीएनएन की रिपोर्ट के अनुसार, चीन ने देशभर के कम से कम 27 शहरों में पूर्ण या आंशिक लॉकडाउन लगाया हुआ है। ऐसे में इन प्रतिबंधों की जद में 16.5 करोड़ लोग हैं। इन लोगों को घरों से निकलने नहीं दिया जा रहा। लॉकडाउन से पहले नए इलाकों में कोई भी चेतावनी जारी नहीं की जा रही। ऐसे में अचानकर बाहर निकलने से रोकने के कारण अराजकता पैदा हो रही है।

Read More: सीएम भूपेश ने कोरिया जिले में बनने वाले जिला अस्पताल और मातृ-शिशु अस्पताल का किया भूमिपूजन 

लोगों को खाने-पीने की चीजें स्टॉक करने का भी मौका नहीं मिल पा रहा है। ऐसे में एक से दो केस मिलने के बाद भी शहर के लोग लॉकडाउन के डर से खरीदारी करने लग रहे हैं। इस कारण चीन के शहरों में खाने-पीने और दूसरे जरूरी सामानों की किल्लत होने लगी है।

Read More: IPL 2022 : लखनऊ सुपर जायंट्स ने पंजाब को दिया 154 रन का लक्ष्य, क्विंटन डिकॉक ने खेली 46 रन की पारी 

 

#HarGharTiranga