Britain has approved new effective corona vaccine

Covid-19 Vaccine: इस नए वैक्सीन से पूरी तरह खत्म हो जाएगा कोरोना! इस देश ने दी मंजूरी, जल्द उपयोग में लाने की तैयारी

इसके साथ ही ब्रिटेन पहला ऐसा देश बन गया है जिसने इस तरह के टीके को मंजूरी दी है। देश के हेल्थ ऑफिसर्स ने इस बात की जानकारी सोमवार को दी है।

Edited By: , August 16, 2022 / 10:30 AM IST

Covid-19 Vaccine: कोरोना वायरस से पूरा विश्व परेशान है। क्योंकि यह पूरी तरह से खत्म नहीं हो पा रहा है। संक्रमण को कम करने भारत समेत कई देशों ने टीके का निजात तो किया पर इसको पूरे तरह से खत्म करने के लिए अभी तक कोई भी वैक्सीन नहीं बन पाई है। इस बीच एक अच्छी खबर ब्रिटेन से आई है। दरअसल, ब्रिटेन ने कोविड-19 के खिलाफ एक ऐसे बूस्टर टीके को मंजूरी दी है, जिसके बारे में दावा किया जा रहा है कि वह ओरिजनल कोरोना वायरस और ओमिक्रोन दोनों वेरिएंट के खिलाफ कारगर है। इसके साथ ही ब्रिटेन पहला ऐसा देश बन गया है जिसने इस तरह के टीके को मंजूरी दी है। देश के हेल्थ ऑफिसर्स ने इस बात की जानकारी सोमवार को दी है।

read more:  मंगलवार के दिन भूलकर भी न करना ये काम, नाराज हो जाते हैं हनुमान जी

Modern टीके को मंजूरी मिली

ड्रग रेग्युलेटरी बॉडी एमएचआरए (MHRA) ने कहा कि उसने कोरोना वायरस के खिलाफ मॉडर्न टीके को मंजूरी दी क्योंकि इसे सुरक्षा, गुणवत्ता और प्रभावशीलता के मानकों पर खरा पाया गया। रेग्युलेटरी बॉडी ने कहा कि बूस्टर टीका ‘स्पाइकवैक्स बाइवैलेंट ओरिजिनल /ओमिक्रोन की हर खुराक का आधा हिस्सा (25 माइक्रोग्राम) ओरिजनल जबकि दूसरा आधा हिस्सा ओमिक्रोन को निशाना बनाता है।

MHRA की चीफ एग्जीक्यूटिव डॉ जे राइन ने कहा कि उन्हें नए बूस्टर टीके को मंजूरी दिए जाने की घोषणा करते हुए खुशी हो रही है जो क्लीनिकल ट्रायल में ओमिक्रोन के साथ ही 2020 के मूल स्वरूप के खिलाफ कारगर पाया गया।

वायरस से बच पाएंगे लोग

उन्होंने कहा कि ब्रिटेन में इस्तेमाल किए जा रहे टीकों की पहली पीढ़ी बीमारी के खिलाफ अहम सुरक्षा प्रदान करती है और लोगों के जीवन को बचाती है। उन्होंने कहा कि वायरस के दो स्वरूपों के खिलाफ काम करने वाले इस टीके से लोगों को बीमारी से बचाने में मदद मिलने की पूरी उम्मीद है क्योंकि वायरस का स्वरूप बदलना जारी है।

रेग्युलेटरी बॉडी ने कहा कि सबूतों की सावधानीपूर्वक समीक्षा किए जाने के बाद एक्सपर्ट साइंटिफिक एडवाइजरी बॉडी व ह्यूमन मेडिकल कमिशन ने ब्रिटेन में इस बूस्टर टीके को मंजूरी देने के फैसले का समर्थन किया।

इसके साथ ही रेग्युलेटरी बॉडी ने यह भी कहा कि उसका फैसला क्लीनिकल ट्रायल के आंकड़ों पर आधारित है जिसमें दिखाया गया है कि बूस्टर मॉडर्न टीका ओमिक्रोन के साथ ही 2020 के मूल स्वरूप के खिलाफ कारगर पाया गया। इसके अलावा ओमिक्रोन के सब-वेरिएंट बीए.4 और बीए.5 के खिलाफ भी इसे कुछ हद तक कारगर पाया गया।

read more:  मौसम विभाग ने जारी की मानसून की प्रोग्रेस रिपोर्ट, सबसे ज्यादा बारिश के मामले में यह राज्य सबसे आगे..जानें