भाजपा और जदयू के बीच बढती दूरी दर्शाती है कि चार जून के बाद बिहार में ‘कुछ बड़ा’ होगा: तेजस्वी |

भाजपा और जदयू के बीच बढती दूरी दर्शाती है कि चार जून के बाद बिहार में ‘कुछ बड़ा’ होगा: तेजस्वी

भाजपा और जदयू के बीच बढती दूरी दर्शाती है कि चार जून के बाद बिहार में ‘कुछ बड़ा’ होगा: तेजस्वी

:   Modified Date:  May 30, 2024 / 04:17 PM IST, Published Date : May 30, 2024/4:17 pm IST

पटना, 30 मई (भाषा) राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता तेजस्वी यादव ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बारे में हाल की अपनी टिप्पणी को दोहराते हुए बृहस्पतिवार को दावा किया कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के बीच बढती कथित दूरी दर्शाती है कि लोकसभा नतीजे आने के बाद बिहार में ‘‘कुछ बड़ा’’ होगा।

तेजस्वी ने यहां पत्रकारों से कहा, ‘‘जब से हमने कहा कि चार जून के बाद हमारे चाचा (नीतीश कुमार) अपनी पार्टी को बचाने के लिए कोई बड़ा निर्णय ले सकते हैं, तब से वह प्रचार में नहीं निकले हैं। प्रशासन का काम राज्यपाल देख रहे हैं एवं अधिकारियों को बुलाकर के समीक्षा कर रहे हैं। जदयू और भाजपा अपनी-अपनी सीट पर लगी हुई है। उनके बीच कोई तालमेल नहीं है। यह जो अंतर है वह दिखाता है कि चार जून के बाद कुछ बड़ा होगा।’’

राजद नेता ने 28 मई को नीतीश कुमार के बारे में कहा था, ‘‘हमारे चाचा पिछडों की राजनीति और पार्टी बचाने के लिए कोई भी बडा फैसला चार जून के बाद कर सकते हैं।’’

नीतीश कुमार के महागठबंधन से नाता तोड़कर भाजपा नीत राजग में चले जाने के कारण तेजस्वी यादव ने जनवरी में उपमुख्यमंत्री पद खो दिया था।

यह पूछे जाने पर कि क्या वह जदयू प्रमुख के साथ फिर से गठबंधन करेंगे तेजस्वी ने कहा था, ‘‘यह बाद में देखा जाएगा।’’

पिछले एक दशक में नीतीश कुमार ने दो बार तेजस्वी यादव के पिता लालू प्रसाद के नेतृत्व वाले राजद के साथ गठबंधन किया। हाल में जदयू 1990 के दशक से उसकी सहयोगी रही भाजपा के साथ फिर चला गया।

खराब स्वास्थ्य के कारण व्हीलचेयर पर चुनाव प्रचार कर रहे युवा राजद नेता ने कहा, ‘‘आज प्रचार का अंतिम दिन हैं और प्रचार समाप्त होने तक मेरी 251 चुनावी सभाएं हो जाएंगी।’’

उन्होंने कहा, ‘‘इसबार इंडिया गठबंधन की सरकार बनने जा रही है। हम लोग 300 पार कर रहे हैं। दरअसल मोदी जी तीन महबूबाओं से सबसे अधिक प्यार करते हैं और वे बेरोजगारी, गरीबी और महंगाई हैं। मोदी जी को ये तीनों महबूबाएं चुनाव हरवा रही हैं।’’

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के ध्यान सत्र के लिए कन्याकुमारी की उनकी यात्रा के बारे में पूछे जाने पर यादव ने कहा, ‘‘वह मार्केटिंग करने, फोटो खिंचवाने, स्वीमिंग करने जा रहे हैं। पिछली बार गुफा में बैठकर वह फोटो खिंचवा रहे थे। इस बार वह कन्याकुमारी जा रहे हैं। प्रधानमंत्री जी से निवेदन है कि मीडिया और कैमरा पर प्रतिबंध लगाएं। जाइए, जो ध्यान करना है कीजिए, ध्यान में बाधाओं को मत लाइए।’’

भाषा अनवर

राजकुमार

राजकुमार

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers