तेजस्वी यादव में अपने पिता के जैसा धैर्य नहीं : पप्पू यादव |

तेजस्वी यादव में अपने पिता के जैसा धैर्य नहीं : पप्पू यादव

तेजस्वी यादव में अपने पिता के जैसा धैर्य नहीं : पप्पू यादव

:   Modified Date:  April 23, 2024 / 06:54 PM IST, Published Date : April 23, 2024/6:54 pm IST

पूर्णिया (बिहार), 23 अप्रैल (भाषा) बिहार की पूर्णिया लोकसभा सीट से बतौर निर्दलीय चुनाव लड़ रहे कांग्रेस नेता पप्पू यादव ने मंगलवार को राजद नेता तेजस्वी यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि उनमें अपने पिता लालू प्रसाद जैसा ‘धैर्य’ नहीं है।

पप्पू यादव ने यह टिप्पणी तब की, जब संवाददाताओं ने तेजस्वी यादव के भाषणों की ओर उनका ध्यान आकृष्ट किया। तेजस्वी पूर्णिया में राजद उम्मीदवार बीमा भारती के लिए जोर-शोर से प्रचार कर रहे हैं।

पूर्णिया सीट से फिलहाल जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के नेता संतोष कुशवाहा सांसद हैं। पप्पू यादव 1990 के दशक में इस सीट से तीन बार जीत दर्ज कर चुके हैं, अब वह बतौर निर्दलीय चुनावी मैदान में होने के बावजूद प्रमुख दावेदार माने जा रहे हैं।

तेजस्वी यादव ने सोमवार को आयोजित रैली में कहा, ‘‘ चुनाव ‘इंडिया’ गठबंधन और राजग के बीच करना है। अगर आप बीमा भारती (राजद उम्मीदवार) का समर्थन नहीं करते, माना जाएगा कि आप राजग के साथ हैं।’’

तेजस्वी की इस टिप्पणी का एक वीडियो क्लिप वायरल हो गया है। राजनीतिक टिप्पणीकार इस कथन को तेजस्वी यादव की हताशा के संकेत के रूप में देख रहे हैं, जिनके बारे में कहा जाता है कि उन्होंने पप्पू यादव की पूर्णिया से ‘इंडिया’ गठबंधन के उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ने की कोशिश को नाकाम करने में अहम भूमिका निभाई।

पप्पू यादव ने कहा, ‘‘वह इतने अधीर क्यों हो जाते हैं? ऐसा प्रतीत होता है कि उन्हें अपने पिता से धैर्य विरासत में नहीं मिला है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मैं परेशान नहीं हूं। मैं एक पुरानी नीति कथा से प्रेरणा लेता हूं, जिसमें एक ऋषि बिच्छू के डंक से अप्रभावित रहे थे।’’

पप्पू यादव ने इस सवाल को नजरअंदाज कर दिया कि क्या उन्हें लगता है कि तेजस्वी यादव ने भारती की हार को स्वीकार कर लिया है, जो हाल ही में जदयू छोड़कर राजद में शामिल हुई थीं। हालांकि, वह उनपर भाजपा की ‘बी टीम’ होने के संबंध में बार-बार लगने वाले आरोपों पर भड़क गए।

पप्पू यादव ने व्यंग्यात्मक रूप से कहा,‘‘ मैं आम आदमी हूं और राजा या राजकुमार पर टिप्पणी नहीं कर सकता। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन यह बी टीम की बात क्या है? क्या वह उन सभी वरिष्ठ राजद नेताओं पर भी यही लेबल लगाएंगे, जिन्होंने हाल ही में पार्टी छोड़ दी है?’’

उन्होंने कहा कि वह ‘इंडिया’ गठबंधन की ओर से चुनाव लड़ रहे हैं।

पप्पू यादव ने कहा, ‘‘26 अप्रैल को मतदान के दिन पूर्णिया की जनता इतिहास रचेगी। इसके बाद मैं अमेठी और रायबरेली सहित अनेक जगहों पर ‘इंडिया’ गठबंधन के लिए चुनाव प्रचार करूंगा।’’

पप्पू यादव ने कहा कि उन्होंने राजद के टिकट पर दो बार मधेपुरा सीट पर जीत दर्ज की। उन्होंने सवाल किया, ‘‘ क्या मैं उस समय भी भाजपा की बी टीम था?क्या कन्हैया कुमार भी भाजपा की बी टीम हैं? ’’

जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार को राजद के उत्तराधिकारी तेजस्वी यादव के संभावित प्रतिद्वंद्वी के तौर पर देखा जाता है और यही वजह है कि पार्टी ने 2019 में बेगूसराय सीट पर उनके खिलाफ उम्मीदवार खड़ा किया था। साल 2019 के लोकसभा चुनाव में कन्हैया ने भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ा था।

पप्पू यादव ने संकेत दिया कि वह सिवान के बाहुबली दिवंगत मोहम्मद शहाबुद्दीन की पत्नी हिना शहाब के लिए प्रचार करेंगे। राजद ने इस बार हिना को टिकट नहीं दिया है, लेकिन अबतक सिवान से अपना उम्मीदवार नहीं उतारा है।

भाषा धीरज दिलीप

दिलीप

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers