पहली तिमाही में एनबीएफसी के प्रबंधन के तहत परिसंपत्तियां घटीं: रिपोर्ट

पहली तिमाही में एनबीएफसी के प्रबंधन के तहत परिसंपत्तियां घटीं: रिपोर्ट

Edited By: , September 13, 2021 / 05:59 PM IST

मुंबई, 13 सितंबर (भाषा) गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (एनबीएफसी) के प्रबंधन के तहत परिसंपत्तियां (एयूएम) चालू वित्त वर्ष 2021-22 की पहली तिमाही में घटी हैं। एक रिपोर्ट में कहा गया है कि वितरण कम रहने तथा पोर्टफोलियो संपत्तियां घटने से एनबीएफसी का एयूएम घटा है।

इक्रा रेटिंग्स की रिपोर्ट में कहा गया है कि बीते वित्त वर्ष 2020-21 की तीसरी और चौथी में तेजी के बाद एनबीएफसी तथा आवास वित्त कंपनियों (एचएफसी) का वितरण चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में घटा है। तिमाही-दर-तिमाही आधार पर इसमें 55 प्रतिशत की गिरावट आई।

एजेंसी ने कहा, ‘‘वितरण कम रहने तथा पोर्टफोलियो संपत्तियों में गिरावट से बीते वित्त वर्ष की पहली तिमाही में किस्त भुगतान पर रोक जैसी स्थिति के अभाव में 2021-22 की पहली तिमाही में एनबीएफसी का एयूएम घटा है। वहीं एचएफसी का एयूएम स्थिर रहा है।’’

रिपोर्ट में कहा गया है कि क्षेत्र के वितरण में जुलाई, 2021 में काफी तेज सुधार हुआ है। इसकी वजह दबी मांग है। लेकिन यह कितना टिकाऊ रहता है, इसका अनुमान वृहद आर्थिक संकेतकों से ही लगाया जा सकेगा।

इक्रा की उपाध्यक्ष एवं क्षेत्र प्रमुख (वित्तीय क्षेत्र रेटिंग्स) मनुश्री सग्गर ने कहा कि दूसरी लहर की वजह से अस्थायी रूप से क्षेत्र का पुनरुद्धार प्रभावित हुआ है।

उन्होंने कहा कि हमारा अनुमान है कि 2021-22 में कुल वितरण सालाना आधार पर छह से आठ प्रतिशत अधिक रहेगा।

उन्होंने कहा कि एयूएम के परिप्रेक्ष्य से देखा जाए, तो इसमें चालू वित्त वर्ष में आठ से 10 प्रतिशत वृद्धि की उम्मीद है।

भाषा अजय अजय महाबीर

महाबीर