डीएचएफएल के कोष की हेराफेरी के लिए नौ रियल एस्टेट कंपनियों पर सीबीआई की नजर

डीएचएफएल के कोष की हेराफेरी के लिए नौ रियल एस्टेट कंपनियों पर सीबीआई की नजर

: , June 23, 2022 / 07:26 PM IST

नयी दिल्ली, 23 जून (भाषा) डीएचएफएल ने कथित तौर पर नौ रियल एस्टेट कंपनियों के जरिए 14,683 करोड़ रुपये से अधिक के कोष की हेराफेरी की है।

सीबीआई ने यह आरोप लगाते हुए कहा कि ये कंपनियां तत्कालीन अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक कपिल वधावन, निदेशक धीरज वधावन और व्यवसायी सुधाकर शेट्टी के नियंत्रण वाली हैं।

अधिकारियों ने कहा कि इसके साथ ही इन रियल एस्टेट कंपनियों की भूमिका केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की जांच के दायरे में आ गई है। इनमें से पांच शेट्टी की सहाना समूह से संबंधित हैं।

सीबीआई दीवान हाउसिंग फाइनेंस कॉरपोरेशन लिमिटेड (डीएचएफएल) में 34,615 करोड़ रुपये के घोटाले की जांच कर रही है।

जांच एजेंसी ने यूनियन बैंक ऑफ इंडिया की अगुवाई में 17 बैंकों के समूह के साथ कथित धोखाधड़ी मामले में डीएचएफएल के कपिल वधावन और धीरज वधावन के खिलाफ ताजा मामला दर्ज किया है। यह एजेंसी की जांच के दायरे में आई अबतक की सबसे बड़ी बैंक धोखाधड़ी है।

सीबीआई ने बैंक से 11 फरवरी, 2022 को मिली शिकायत के आधार पर कार्रवाई की है।

भाषा पाण्डेय रमण जतिन

जतिन

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)