कृषि, ग्रामीण श्रमिकों के लिए जून में खुदरा मुद्रास्फीति बढ़ी |

कृषि, ग्रामीण श्रमिकों के लिए जून में खुदरा मुद्रास्फीति बढ़ी

कृषि, ग्रामीण श्रमिकों के लिए जून में खुदरा मुद्रास्फीति बढ़ी

: , July 20, 2022 / 09:10 PM IST

नयी दिल्ली, 20 जुलाई (भाष) कुछ खाद्य पदार्थों की ऊंची कीमतों के कारण जून में कृषि और ग्रामीण श्रमिकों के लिए खुदरा मुद्रास्फीति बढ़कर क्रमशः 6.43 प्रतिशत और 6.76 प्रतिशत हो गई।

पिछले वर्ष जून में कृषि श्रमिकों के लिए खुदरा मुद्रास्फीति 3.83 प्रतिशत और ग्रामीण मजदूरों के लिए चार प्रतिशत थी।

जून में कृषि मजदूरों के लिए अखिल भारतीय उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई-एएल) 1,125 अंक पर था। जबकि ग्रामीण श्रमिकों के लिए उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई-आरएल) 1,137 अंक रहा। वार्षिक आधार पर, दोनों मामूली अधिक हैं।

वहीं, मई में सीपीआई-एएल 1,119 अंक पर जबकि सीपीआई-आरएल 1,131 अंक पर था।

श्रम मंत्रालय ने बुधवार को बयान में कहा, ‘‘कृषि एवं ग्रामीण श्रमिकों के लिए उपभोक्ता मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति जून, 2022 में क्रमश: 6.43 प्रतिशत और 6.76 प्रतिशत रही। मई में यह क्रमश : 6.67 और सात प्रतिशत थी।’’

भाषा जतिन अजय

अजय

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

#HarGharTiranga