नाव हादसाः 11 शव बरामद, 10 अभी भी लापता, CM ने मृतकों के परिजनों को 4.4 लाख रुपए मुआवजे का किया ऐलान |

नाव हादसाः 11 शव बरामद, 10 अभी भी लापता, CM ने मृतकों के परिजनों को 4.4 लाख रुपए मुआवजे का किया ऐलान

अधिकांश लोग तो तैरकर बाहर निकल आए। दुर्घटना से पहले हथिनी कुंड बैराज से छोड़े गए पानी के तेज बहाव में नौका डगमगा गयी थी। धीरे-धीरे नाव से नाविक का नियंत्रण हट जाता है और नाव डूब जाती है।

Edited By: , August 13, 2022 / 12:37 PM IST

Boat accident: 11 bodies recovered: बांदाः यूपी के बांदा में हुए नाव हादसे में मरने वालों का आंकड़ा 11 पहुंच गया है। यमुना नदी के तेज बहाव में करीब 50 यात्रियों से भरी नाव डूब गई थी। मौसम सही होने पर शनिवार की सुबह 7 और लाशें मिलने के बाद आंकड़ा 11 हो गया है। अभी भी करीब 10 अन्य ऐसे लोग हैं, जिनका पता नहीं चल सका है। तलाश के लिए सर्च ऑपरेशन लगातार जारी है।

read more:  रेलवे क्लर्क ने यात्री से 70 की टिकट पर लिए थे 90 रुपए, 22 साल बाद मिला न्याय, कोर्ट ने 15000 रुपए भुगतान करने कहा

मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हादसे में मारे गए लोगों के घरवालों को 4-4 लाख रुपये की आर्थिक मदद देने की घोषणा की है। दो दिन पहले गुरुवार दोपहर यमुना नदी में तेज बहाव के कारण 50 यात्रियों से भरी नाव डूब गई थी। अधिकांश लोग तो तैरकर बाहर निकल आए। दुर्घटना से पहले हथिनी कुंड बैराज से छोड़े गए पानी के तेज बहाव में नौका डगमगा गयी थी। धीरे-धीरे नाव से नाविक का नियंत्रण हट जाता है और नाव डूब जाती है।

read more: राजू श्रीवास्तव के हालत पर आया अपडेट, परिवार ने स्टेटमेंट जारी कर की ऐसी अपील

Boat accident: 11 bodies recovered: स्‍थानीय लोगों ने बताया कि हर रोज मरका घाट से सैकड़ों की संख्या में लोग नाव से यमुना पार कर फतेहपुर और प्रयागराज जाते हैं। ग्रामीणों का कहना है कि जब तक नाव में कम से कम 40 यात्री नहीं हो जाते, नाविक आगे बढ़ने के लिए तैयार नहीं होते। ऐसे में लोगों को एक एक घंटे तक इंतजार करना पड़ता है। त्‍योहारों के दौरान भीड़ बढ़ जाती है। ऐसे में नाविक ज्‍यादा पैसे कमाने के चक्‍कर में 50 से ज्‍यादा यात्रियों को भी नाव में बैठा लेते हैं, जिससे हादसे हो जाते हैं।