दिल्ली में अपने नियोक्ता के बेटे के अपहरण के आरोप में महिला और उसकी मां समेत चार गिरफ्तार |

दिल्ली में अपने नियोक्ता के बेटे के अपहरण के आरोप में महिला और उसकी मां समेत चार गिरफ्तार

दिल्ली में अपने नियोक्ता के बेटे के अपहरण के आरोप में महिला और उसकी मां समेत चार गिरफ्तार

: , December 25, 2021 / 05:07 PM IST

नयी दिल्ली, 25 दिसंबर (भाषा) दिल्ली के गाजीपुर फूल बाजार से अपने नियोक्ता के बेटे का अपहरण करने और फिरौती के रूप में 50 लाख रुपये लेने के आरोप में एक महिला और उसके तीन साथियों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने शनिवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि आरोपियों की पहचान ऋचा सभरवाल, उसकी मां अनीता, उसके बॉयफ्रेंड गुरमीत सिंह और कमल बंसल के रूप में की गई है।

पुलिस ने कहा कि 18 दिसंबर को अपराह्न पौने चार बजे विकास अग्रवाल नामक व्यक्ति ने पटपड़गंज औद्योगिक क्षेत्र पुलिस थाने में कॉल कर कहा उसके बेटे किंशुक को बंदूक (खिलौने वाली)की नोक पर गाजीपुर फूल मंडी से अगवा कर लिया गया और 50 लाख रुपये फिरौती लेने के बाद छोड़ा गया।

पुलिस ने बताया कि शालीमार बाग के निवासी किंशुक ने कहा कि वह, ऋचा तथा वाहन चालक जितेंद्र फूल खरीदने गाजीपुर बाजार गए थे। ऋचा, किंशुक के पिता के बैंक्वेट पर फूल सजावट का काम करती है। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि जैसे ही तीनों फूल खरीदने के बाद कार में बैठे, काला जैकेट, कैप और मास्क पहने हुए एक व्यक्ति वाहन में घुस आया और उसने कार चालक पर बंदूक तान दी और उससे अशोक विहार चलने को कहा।

पुलिस ने कहा कि अशोक विहार के रास्ते पर, अपहर्ता ने किंशुक के मोबाइल फोन से विकास को व्हाट्सऐप कॉल किया और एक करोड़ रुपये फिरौती की मांग की। विकास ने मोलभाव करने के बाद अशोक विहार पहुंचकर 50 लाख रुपये दे दिए और इसके बाद अपहर्ता ने किंशुक, ऋचा और कार चालक जितेंद्र को छोड़ दिया। फिर अपहर्ता ने विकास से कार चलाने को कहा।

अधिकारी ने बताया कि अपहर्ता ने विकास से धौला कुआं चलने को कहा और वह पश्चिम विहार में रेडिसन होटल के पास कार से उतर गया। अधिकारी ने कहा कि अपहरण करने वाले ने विकास से बाकी 50 लाख रुपये देने की भी धमकी दी। जांच के दौरान पुलिस ने बंसल को गिरफ्तार किया और बाद में गुरमीत सिंह, ऋचा और उसकी मां को भी पकड़ लिया गया।

पुलिस उपायुक्त (पूर्व) प्रियंका कश्यप ने बताया कि पूछताछ के दौरान गुरमीत ने कहा कि वह ऋचा का बॉयफ्रेंड है जो विकास के यहां काम करती है। डीसीपी ने बताया कि ऋचा पर लाखों रुपये का कर्ज था इसलिए उसने अपनी मां अनीता और गुरमीत के साथ मिलकर किंशुक को अगवा करने की साजिश रची थी।

भाषा यश उमा

उमा

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

#HarGharTiranga