General public got relief from inflation, there was a big drop in retail

आम जनता को मिली महंगाई से राहत, रिटेल महंगाई दर में आई बड़ी गिरावट

Retail Inflation Data: आम जनता को मिली महंगाई से राहत, General public got relief from inflation, there was a big drop in retail inflation

Edited By: , August 13, 2022 / 10:19 AM IST

नई दिल्ली। Retail Inflation Data 2022: महंगाई के मोर्चे पर राहत भरी खबर सामने आई है। खाने का सामान सस्ता होने से खुदरा मुद्रास्फीति जुलाई में नरम होकर 6.71 प्रतिशत पर आ गयी है। शुक्रवार को जारी किए गए सरकारी आंकड़ों के अनुसार, जून 2022 में महंगाई दर 7.01 प्रतिशत, जबकि जुलाई 2021 में 5.59 प्रतिशत थी। आंकड़ों के अनुसार, खाद्य मुद्रास्फीति भी जुलाई महीने में नरम पड़कर 6.75 प्रतिशत पर पहुंच गयी, वहीं जून में यह 7.75 प्रतिशत थी।

झोलाछाप डॉक्टर ने इलाज के बहाने नाबालिग से उतरवाया कपड़ा, फिर बातों-बातों में कर डाला यह काम, केस दर्ज 

तीन महीने में खुदरा मुद्रास्फीति 7.0 प्रतिशत से ऊपर रही

Retail Inflation Data: खुदरा महंगाई दर का आंकड़ा अभी भी आरबीआई के टोलरेंस बैंड के अपर लिमिट 6 फीसदी से ऊपर बना हुआ है, लेकिन राहत की बात ये है कि खुदरा महंगाई दर 2022-23 के अनुमान 6.70 फीसदी के करीब आ पहुंचा है। महंगाई दर में कमी के बाद ब्याज दरों में बढ़ोतरी के सिलसिले पर ब्रेक लग सकता है। माना जा रहा है कि महंगाई दर में और कमी आ सकती है। जिसके बाद आरबीआई को कर्ज महंगा करने की दरकार ना पड़े।

24 घंटे में मिले कोरोना के इतने नए मरीज, 10 लोगों की मौत, स्वास्थ्य विभाग की बढ़ी चिंता

इस वजह से नीचे आई खुदरा महंगाई

Retail Inflation Data: खाने-पीने की चीजों और तेल की कीमतों में कमी के कारण जुलाई में खुदरा महंगाई नीचे आई है। जुलाई महीने में शहरी इलाकों में खाद्य महंगाई दर 6.69 फीसदी रहा है जो जून में 8.04 फीसदी पर रहा था। जबकि ग्रामीण इलाकों में खाद्य महंगाई दर 6.80 फीसदी रहा है, जबकि जून में 7.61 फीसदी रहा था। कच्चे तेल समेत कई कमोडिटी के दामों में कमी के चलते जुलाई महीने में खुदरा महंगाई दर में कमी आई है। वहीं पेट्रोल डीजल पर एक्साइज ड्यूटी के घटने से माल ढुलाई में कमी आई है। जिसके चलते महंगाई में कमी आई है।

और भी है बड़ी खबरें…