Gujarat Election Exit Poll Result will be tomorrow

Gujarat Election Exit Poll Result 2022: गुजरात विधानसभा चुनाव में कौन-किस पर भारी? Exit poll में कल होगा साफ

Gujarat Election Exit Poll Result: पीएम नरेंद्र मोदी का गृहक्षेत्र होने से गुजरात विधानसभा पर सबकी निगाहें हैं।

Edited By: , December 4, 2022 / 11:52 PM IST

अहमदाबाद। Gujarat Election Exit Poll Result: पीएम नरेंद्र मोदी का गृहक्षेत्र होने से गुजरात विधानसभा पर सबकी निगाहें हैं। पूरे देश की जनता गुजरात पर निगाहें गड़ाई हुई है। इस बार का विधानसभा चुनाव कई मायने में खास है। गुजरात के 15वीं विधानसभा चुनावों में किस पार्टी की सरकार बनने जा रही है? किस पार्टी को कितनी सीटें मिलेंगी? बीजेपी क्या तोड़ पाएगी अपना कीर्तिमान? इन तमाम सवालों को लेकर वोटिंग के बाद शाम पांच बजे एक्जिट पोल में स्थिति का रुझान मिलेगा।

गुजरात चुनावों के परिणमों को लेकर देश और दुनियाभर में दिलचस्पी है। इसकी बड़ी वजह है आम आदमी पार्टी। गुजरात में जोरशोर से चुनाव लड़ने वाली आम आदमी पार्टी ने किसको अपसेट किया। इसको लेकर उत्सुकता है। दूसरे चरण की वोटिंग के बाद शाम पांच बजे के बाद टीवी चैनल के एक्जिट पोल आएंगे। इनमें गुजरात के लोगों ने किस तरफ वोटिंग और किसकी सरकार बनने जा रही है। इसका अनुमान लगेगा। गुजरात विधानसभा चुनावों के परिणाम 8 दिसंबर को आएंगे।

Read more : एक ही शख्स पर फिदा हुईं IT पेशेवर दो जुड़वा बहनें, धूमधाम से रचाई शादी, विवाह होते ही दूल्हे के साथ हो गया ऐसा कांड, देखें वीडियो 

साल 2017 में  रही कांटे की टक्कर

गुजरात में विधानसभा कुल सीटों की संख्या 182 है। इसमें 40 सीटें आरक्षित हैं। 27 सीटें अनुसूचित जनजाति के लिए और 13 सीटें अनुसूचित जाति के रिजर्व हैं। विधानसभा में बहुमत का आंकड़ा 92 सीटों का है। साल 2017 के चुनाव में सत्तारूढ़ बीजेपी मुश्किल से सरकार बचा पाने में सफल रही थी। दो दशक में पहली बार पार्टी की सीटों की संख्या दो अंकों में सिमट गई थी और बीजेपी सिर्फ 99 सीटें जीत सकती थी। कांग्रेस को 2017 के चुनाव 77 सीटें मिली थीं, जबकि कांग्रेस से गठबंधन करके लड़ी भारतीय ट्राइबल पार्टी (बीटीपी) को 2 सीटें मिली और 1 सीट पर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) विजयी हुई थी। तीन सीटों पर निर्दलीय जीते थे। इनमें वडगाम से दलित नेता जिग्नेश मेवाणी की कांग्रेस के समर्थन से जीत हुई थी।

दो चरणों में हुआ चुनाव

Gujarat Election Exit Poll: राज्य में 15वीं विधानसभा के चुनाव पिछले सालों के अपेक्षा जल्दी कराए गए। पिछले 20 सालों में पहली बार 1 दिसंबर को वोटिंग हुई। तो वहीं दूसरे चरण की वोटिंग 5 दिसंबर को हुई। विधानसभा चुनावों के जल्दी संपन्न होने के चलते राज्य में सरकार का गठन भी जल्द होने की उम्मीद है। 15 दिसंबर राज्य में नई बनने का आसार हैं। अगर बीजेपी एक बार फिर से चुनाव में जीत हासिल करती है तो यह बीजेपी की लगातार सातवीं जीत होगी। इसके साथ ही राज्य में बीजेपी कांग्रेस के शासन काल से आगे निकल जाएगी और एक नया कीर्तिमान बनाएगी।

Read more : Congress steering committee meeting: रायपुर में होगा कांग्रेस का तीन दिवसीय अधिवेशन, इस तारीख से होगी शुरुआत 

5 दिसंबर को 93 विधानसभा क्षेत्रों में मतदान

दूसरे चरण में पांच दिसंबर को 93 विधानसभा क्षेत्रों में मतदान होगा। जिसमें 833 उम्मीदवार किस्मत आजमा रहे हैं। मतगणना आठ दिसंबर को होगी। दूसरे चरण में मैदान में मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल (घाटलोदिया से), पाटीदार नेता हार्दिक पटेल (विरमगाम से) और अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) नेता अल्पेश ठाकोर (गांधीनगर दक्षिण से) हैं। हार्दिक पटेल और ठाकोर दोनों भाजपा के उम्मीदवार हैं।

दूसरे चरण में किन नेताओं की सीटें दांव पर?

Gujarat Election 2022: दूसरे चरण में कुछ महत्वपूर्ण निर्वाचन क्षेत्रों में वोट डाले जाएंगे जिनमें मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल की घाटलोडिया सीट के साथ ही वीरमगाम सीट जहां से पाटीदार नेता हार्दिक पटेल भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं और गांधीनगर दक्षिण सीट शामिल है जहां से अल्पेश ठाकोर भाजपा उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ रहे हैं।

दूसरे चरण में 833 उम्मीदवार मैदान में

दूसरे चरण में बची हुई 93 सीट के लिए मतदान होगा, जिसके लिए राज्य में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा), विपक्षी कांग्रेस और अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली आम आदमी पार्टी (आप) सहित लगभग 60 राजनीतिक दलों के 833 उम्मीदवार और निर्दलीय मैदान में हैं।

पहले चरण में चार फीसदी की गिरावट

गुजरात के 19 जिलों की 89 विधानसभा सीटों पर 1 दिसंबर को मतदान हुआ। पहले चरण में 63 फीसदी से ज्यादा मतदान हुआ। 2017 के मुकाबले इसमें करीब चार फीसदी की गिरावट दर्ज हुई है। 2017 में इन सीटों पर 67.20 प्रतिशत लोगों ने वोट डाला था। ऐसे में सवाल यही है कि मतदान घटने के मायने क्या हैं? मतदान घटने से किसे फायदा होगा? गुजरात के 19 जिलों की 89 विधानसभा सीटों पर गुरुवार को मतदान हुआ। पहले चरण में 63 फीसदी से ज्यादा मतदान हुआ। 2017 के मुकाबले इसमें करीब चार फीसदी की गिरावट दर्ज हुई है। साल 2017 में इन सीटों पर 67.20 प्रतिशत लोगों ने वोट डाला था। ऐसे में सवाल यही है कि मतदान घटने के मायने क्या हैं? मतदान घटने से किसे फायदा होगा? सवाल ये भी है कि 2017 में जिन सीटों पर भाजपा और कांग्रेस को जीत मिली थी, वहां क्या हुआ?

फैक्ट फाइल

– विधानसभा की कुल सीट- 182
– विधानसभा में बहुमत का आंकड़ा- 92 सीट

– पहले चरण का मतदान- 1 दिसबंर को 19 जिलों की 89 विधानसभा सीटों पर हुआ

– दूसरे चरण का मतदान- 5 दिसंबर को 93 सीट के लिए मतदान होगा