कहते थे कि जम्मू में दूध की नदियां बहेंगी, लेकिन लोग तरस रहे पानी के लिए, 370 खत्म किए जाने पर फिर छलका महबूबा मुफ़्ती का दर्द 

कहते थे कि जम्मू में दूध की नदियां बहेंगी, लेकिन लोग तरस रहे पानी के लिए, 370 खत्म किए जाने पर फिर छलका महबूबा मुफ़्ती का दर्द 

Edited By: , July 12, 2021 / 10:16 AM IST

जम्मू-कश्मीर: जम्मू-कश्मीर से धारा 370 खत्म किए जाने का मलाल स्थानीय नेताओं के जेहन से खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। लगातार कई नेताओं के द्वारा फिर से धारा 370 बहाल करने की मांग की जा रही है। इसी कड़ी में एक बार फिर पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ़्ती ने धारा 370 खत्म किए जाने को लेकर बड़ा बयान दिया है।

Read More: IAS ने होटल में किया दुष्कर्म, वीडियो बनाकर युवती को शादी के लिए किया ब्लैकमेल, बच्ची होने के बाद नकारा, पीड़िता ने की DNA टेस्ट की मांग

महबूबा मुफ़्ती ने कहा है कि जम्मू में इतनी महंगाई है कि यहां के लोग पानी के लिए तड़प रहे हैं, बिजली नहीं, बेरोजगारी दिन प्रतिदिन बढ़ रही है। जम्मू में माइनिंग बंद है। वे कहते थे कि जम्मू में दूध की नदियां बहेंगी। जबकि यहां इतनी दिक्कते हैं। धारा 370 को खत्म करने का मकसद सिर्फ जम्मू को लूटना था।

Read More: कांग्रेस सरकार गिराने में दिग्विजय सिंह की बड़ी भूमिका ! AICC मेंबर ने सोनिया गांधी को पत्र लिखकर की जांच की मांग

उन्होंने कहा कि अनुच्छेद-370, 35-ए और डोमिसाइल कानून विदेशी मुल्क के द्वारा नहीं दिए गए थे। इससे पहले कि राष्ट्र हमें ये देता, महाराजा हरि सिंह इसे जम्मू-कश्मीर के लोगों की पहचान की रक्षा के लिए लाए थे। उन्होंने कहा था कि हमारे पास ये कानून हैं जिन्हें बरकरार रखना है।

Read More: मां ने बेच दिया दुधमुंहा बेटा, वजह जानेंगे तो भर आएंगी आंखें, देखें मामला