नवजोत सिंह सिद्धू का जेल जाना तय! सरेंडर से राहत की अर्जी पर SC ने सुनवाई से किया इनकार

Navjot Singh Sidhu set to go to jail : पटियाला कोर्ट में सरेंडर करना था, लेकिन हेल्थ प्रॉब्लम का हवाला देते हुए इसके लिए समय मांगा था

Edited By: , May 20, 2022 / 02:15 PM IST

पंजाब। Navjot Singh Sidhu : कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू का लगभग जेल जाना तय हो गया है। ऐसा इसलिए क्योंकि सुप्रीम कोर्ट ने सिद्धू सरेंडर से राहत की अर्जी पर सुनवाई से इनकार कर दिया है। जिसके बाद अब ये माना जा रहा है कि सिद्धू की कभी भी गिरफ्तारी हो सकती है। बता दें कि सिद्धू को आज पटियाला कोर्ट में सरेंडर करना था, लेकिन अब उन्होंने हेल्थ प्रॉब्लम का हवाला देते हुए इसके लिए समय मांगा था।>>*IBC24 News Channel के WhatsApp  ग्रुप से जुड़ने के लिए Click करें*<<

यह भी पढ़ें:  जल्द मिलेगी 5G नेटवर्क की स्पीड, किया गया सफल परीक्षण, केंद्रीय मंत्री ने किया वीडियो कॉल

वहीं, सिद्धू की क्यूरेटिव पिटीशन पर सुनवाई करते हुए सिद्धू के वकील ने इस पर तुरंत सुनवाई की मांग की। लेकिन चीफ जस्टिस ने इसकी इजाजत नहीं दी। कहा कि वह रजिस्ट्री के पास जाकर पहले याचिका दें। जिसके बाद अब सिद्धू के वकील कोर्ट रजिस्ट्री जाएंगे जहां 2 बजे सुनवाई की गुजारिश करेंगे।

यह भी पढ़ें:  हिंदू महासभा के पदाधिकारियों ने की नाथूराम गोडसे की पूजा-अर्चना, कहा – हम किसी के लिए काम नहीं करते

 इस केस में हुई है एक साल की जेल

Navjot Singh Sidhu :  बता दें कि नवजोत सिंह सिद्धू के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट ने 1988 के रोड रेज मामले में उन्हें गुरुवार को 1 साल की सजा सुनाई है। इसके लिए उनको आज सरेंडर करना था लेकिन ऐसा नहीं हुआ है। सिद्धू ने तबीयत ठीक नही होने का हवाला दिया। गया।

यह भी पढ़ें: मर्यादा भूलते माननीय! फिसली जुबान..मुंह पर गाली…आखिर माननीय को ये हक किसने दिया?

34 साल पहले हुई हाथापाई

लगभग 34 साल पहले सड़क पर हुई हाथापाई की इस घटना में 65 वर्षीय एक व्यक्ति की मौत हो गई थी। उस समय सिद्धू की उम्र लगभग 25 साल थी। शीर्ष अदालत ने सिद्धू को पहले इस मामले में केवल एक हजार रुपये का जुर्माना लगाकर छोड़ दिया था। इसके खिलाफ पीड़ित परिवार ने पुनर्विचार याचिका दायर की थी, जिसे शीर्ष अदालत ने स्वीकार कर लिया और आज सिद्धू को एक वर्ष की कठोर कैद की सजा सुनाई।

यह भी पढ़ें: सिंधिया ने साधा दिग्विजय और जयवर्धन सिंह पर निशाना, कहा – जो लोग कांच के घऱों में रहते हैं उन्हें पत्थर नहीं फेंकना चाहिए