रुद्रप्रयाग में अलकनंदा नदी में गिरा टेम्पो-ट्रैवलर, 12 लोगों की मौत |

रुद्रप्रयाग में अलकनंदा नदी में गिरा टेम्पो-ट्रैवलर, 12 लोगों की मौत

रुद्रप्रयाग में अलकनंदा नदी में गिरा टेम्पो-ट्रैवलर, 12 लोगों की मौत

:   Modified Date:  June 15, 2024 / 07:28 PM IST, Published Date : June 15, 2024/7:28 pm IST

रूद्रप्रयाग, 15 (भाषा) उत्तराखंड में बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग पर रैतोली गांव के समीप शनिवार को एक टेम्पो-ट्रैवलर के अलकनंदा नदी में गिर जाने से उसमें सवार 12 पर्यटकों की मौत हो गयी तथा 14 अन्य घायल हो गए। पुलिस ने यह जानकारी दी।

उत्तराखंड राज्य आपदा प्रतिवादन बल (एसडीआरएफ) से मिली जानकारी के अनुसार, हादसे के दौरान वाहन अचानक अनियंत्रित होकर सड़क से 500 मीटर नीचे अलकनंदा नदी के किनारे तक जा गिरा। दुर्घटना में 10 लोगों की मौके पर ही मौत हो गयी जबकि दो अन्य ने उपचार के दौरान दम तोड़ दिया।

एसडीआरएफ के मुताबिक, दुर्घटनास्थल पर गहरी खाई होने के कारण अत्यधिक विषम परिस्थितियों में कड़ी मशक्कत करते हुए बचाव और राहत दल के कर्मी नीचे पहुंचे तथा शवों एवं घायलों को बाहर निकाला। दुर्घटना के दौरान एक महिला गाड़ी से छिटककर लगभग 80 मीटर नीचे झाड़ियों में अटक गयी थी। एसडीआरएफ के जवानों ने उसे सुरक्षित बाहर निकालकर अस्पताल भिजवाया।

गढ़वाल के पुलिस महानिरीक्षक के एस नगन्याल ने बताया कि हादसे का शिकार हुए पर्यटक चोपता घूमने जा रहे थे, लेकिन गंतव्य तक पहुंचने से पहले ही उनका वाहन दुर्घटनाग्रस्त हो गया।

उन्होंने बताया कि इस हादसे के समय वाहन में कुल 26 लोग सवार थे और उनमें से ज्यादातर दिल्ली के रहने वाले थे।

पुलिस महानिरीक्षक ने बताया कि मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के निर्देश पर दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल सात व्यक्तियों को हेलीकाप्टर एंबुलेंस के जरिए अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान(एम्स)-ऋषिकेश में भर्ती करा दिया गया है।

रूद्रप्रयाग के जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी नंदन सिंह रजवार ने बताया कि पूर्वाह्न करीब 11 बजे हुए इस हादसे की जानकारी मिलने के बाद पुलिस, राज्य आपदा प्रतिवादन बल (एसडीआरएफ) की टीमों ने मौके पर पहुंच कर राहत एवं बचाव कार्य शुरू किया।

मुख्यमंत्री ने इस हादसे पर गहरा शोक व्यक्त करते हुए जिलाधिकारी को घटना की जांच के आदेश दिए हैं।

मुख्यमंत्री ने सोशल मीडिया पर अपने शोक संदेश में दुर्घटना को ‘पीड़ादायक’ बताते हुए दिवंगत लोगों की आत्मा की शांति और शोक संतप्त परिवारों को धैर्य प्रदान करने की ईश्वर से कामना की ।

इस बीच, धामी दुर्घटना के घायलों का हाल-चाल जानने एम्स -ऋषिकेश पहुंचे और चिकित्सकों से उनके इलाज के बारे में जानकारी लेते हुए उन्हें घायलों को बेहतर इलाज उपलब्ध कराने को कहा।

उन्होंने घायलों के परिजनों से भी संपर्क कर राज्य सरकार की ओर से उन्हें हर संभव मदद का आश्वासन दिया।

इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में वाहन दुर्घटनाओं पर प्रभावी नियंत्रण के लिए भी अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं।

प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर की गयी पोस्ट में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इस हादसे को ‘हृदयविदारक’ करार दिया।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘‘ उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग में हुआ सड़क हादसा हृदयविदारक है। इसमें अपने प्रियजनों को खोने वाले शोकाकुल परिजनों के प्रति मेरी गहरी संवेदनाएं। इसके साथ ही मैं सभी घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं। राज्य सरकार की देखरेख में स्थानीय प्रशासन पीड़ितों की हरसंभव मदद में जुटा है।’’

हादसे पर दुख जताते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने ‘‘एक्स’’ पर पोस्ट कर हादसे में जान गंवाने वाले लोगों के परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की।

उन्होंने पोस्ट किया, ‘‘उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग में हुई सड़क दुर्घटना का दु:खद समाचार प्राप्त हुआ। मेरी संवेदनाएँ इस हादसे में जान गँवाने वालों के परिजनों के साथ हैं। स्थानीय प्रशासन और एसडीआरएफ की टीमें राहत व बचाव कार्य में जुटी हैं और घायलों को हर सम्भव सहायता उपलब्ध कराई जा रही है। ईश्वर से घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूँ।’’

भाषा

दीप्ति, रवि कांत रवि कांत

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers