ऐसा क्या हुआ कि धर्म संसद के आयोजक यति नरसिंहानंद गिरी ने पुरानी गलतियों के लिए मांगी माफी, जानिए वजह

Yeti Narasimhanand Giri announces to leave public life : एक समुदाय के खिलाफ भड़काऊ और विवादित बयानों के लिए चर्चा में रहने वाले यति

Edited By: , May 23, 2022 / 01:54 PM IST

हरिद्वार। Yeti Narasimhanand Giri apologized for the old mistakes : एक समुदाय के खिलाफ भड़काऊ और विवादित बयानों के लिए चर्चा में रहने वाले यति नरसिंहानंद गिरी ने एक बड़ी घोषणा की है। एक वीडियो जारी कर के उन्होंने अपनी पुरानी गलतियों के लिए माफी मांगी और सार्वजनिक जीवन को छोड़ने ऐलान किया है।>>*IBC24 News Channel के WhatsApp  ग्रुप से जुड़ने के लिए Click करें*<<

यह भी पढ़े : हिरोइन से बनी नेता और अब हत्या कर पहुंची जेल, जाने कौन है चर्चा में रहने वाली निराली 

वीडियो जारी कर कहा शुरू कर रहा नया जीवन

यति नरसिंहानंद गिरी जूना अखाड़ा के महामंडलेश्वर और डासना मंदिर के पुजारी भी है। वीडियो के जरिए उन्होंने बताया कि वे सार्वजानिक जीवन छोड़ रहे हैं और आज से उनका नया जीवन शुरू हो रहा है। उन्होंने बताया कि वे यहां जितेंद्र त्यागी उर्फ वसीम रिजवी को लेने आए थे, लेकिन वह उनके आने से पहले ही रिहा होकर जा चुके हैं, उनकी रिहाई हो चुकी है।

यह भी पढ़े : XUV कार से भी बढ़कर है ये सेकंडहैंड साइकिल! किसान के इस वीडियो को देखकर आप भी करेंगे तारीफ 

महादेव के यज्ञ व योगेश्वर के प्रचार में लगना चाहता हूं

उन्होंने बताया कि मेरी वजह से जितेंद्र त्यागी उर्फ वसीम रिजवी चार महीने से अधिक समय जेल में रहे, जबकि उनका कोई दोष नहीं था। उन्होंने केवल सच बोला था। मैं इसके लिए स्वयं को जिम्मेदार मानता हूं। उन्होंने कहा कि मैंने अपना पूरा जीवन इस्लामिक जिहाद से लड़ने में लगाया और अब शेष जीवन मां और महादेव के यज्ञ व योगेश्वर के प्रचार में लगाना चाहता हूं।

यह भी पढ़े : तीसरी बार शादी रचा सकते हैं पवन सिंह, जानें कौन है वो एक्ट्रेस? 

जमानत पर रिहा है यति नरसिंहानंद गिरी

यति नरसिंहानंद गिरी धर्म संसद में भड़काउ भाषण देने के मामले में जमानत पर रिहा है। उन्होंने ही वसीम रिजवी का धर्म परिवर्तन कराया था। इसके अलावा यति नरसिंहानंद हरिद्वार में धर्म संसद के आयोजक भी रहे हैं, जिसमें एक समुदाय के खिलाफ भड़काऊ नारेबाजी की गई थी।