Children fall ill after consuming mid-day meal in bhopal

मिड-डे-मील का खाना बना जहर! बड़ी संख्या में बीमार हुए प्राइमरी स्कूल के बच्चे, समूह को किया सस्पेंड

Children fall ill after consuming mid-day meal in bhopal बैरसिया के सरकारी स्कूल में मिड-डे मील खाने के बाद छात्र हुए ​बीमार

Edited By: , December 3, 2022 / 06:22 PM IST

Children fall ill after consuming mid-day meal in bhopal: भोपाल। राजधानी भोपाल के एक सरकारी स्कूल में मिड-डे मील खाने से दो दर्जन बच्चों के बीमार होने का मामला सामने आया है। बच्चों का अलग-अलग अस्पतालों में प्रारंभिक उपचार कराया जा रहा है। वहीं एक बच्ची की हालत गंभीर हैं जिसको सरकारी अस्पताल में एडमिट कराया गया है। परिजन का कहना है कि गुरुवार को उनके बच्चों ने स्कूल में मिड डे मील खाया था जिसके बाद से उनको पेट दर्द उल्टी और बुखार की शिकायत शुरू हुई है। वहीं इस मामले में स्कूल की टीचर ने बड़ा खुलासा करते हुए कहां है कि काफी समय से बच्चों को गुणवत्ताहीन और कम खाना मिल रहा है और वह कई बार इसकी शिकायत मिड-डे-मील प्रभारी से कर चुकी है लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। एसडीएम ने मिड डे मील देने वाले समूह को सस्पेंड कर दिया है। सोमवार से नया समूह बच्चों को खाना वितरित करेगा वहीं थाना प्रभारी को निर्देशित किया है कि जो दोषी है उन पर एफआईआर दर्ज की जाए।

मिड-डे-मील का खाना खाने के बीमार हुए छात्र

Children fall ill after consuming mid-day meal in bhopal: दरअसल भोपाल के बैरसिया तहसील के भेसोन्दा गांव स्थित शासकीय प्राइमरी स्कूल में गुरुवार को बच्चों ने दोपहर 1:00 बजे मिड-डे-मील खाया था जिसके बाद से उनकी तबीयत बिगड़ना शुरू हो गई। मिड-डे-मील खाने वाले बच्चों की संख्या लगभग दो दर्जन है। बच्चों को पेट दर्द और उल्टी की शिकायत हुई जिसके बाद उनका अलग-अलग अस्पतालों में प्राथमिक उपचार कराया गया वहीं कक्षा 4 में पढ़ने वाली छात्रा रागनी ठाकुर की जब ज्यादा तबीयत बिगड़ी तो उसके परिजनों से बैरसिया के सरकारी अस्पताल लेकर पहुंचे जहां उसका इलाज जारी है। बच्ची के सरकारी अस्पताल में भर्ती होने के बाद मामला चर्चा में आया। जिसके बाद प्रशासन हरकत में आया जिला पंचायत की टीम ने अस्पताल और स्कूल का विजिट किया। परिजन की शिकायत के बाद स्कूल में मिड डे मील देने वाले समूह संचालक पर मामला दर्ज किया जा रहा है।

शिक्षिका कई बार कर चुकी है शिकायत

Children fall ill after consuming mid-day meal in bhopal: जानकारी के अनुसार बच्चों को बासी कड़ी और पुड़ी खाने में दिया गया था जिसकी वजह से उनकी तबीयत बिगड़ी। वहीं जब स्थानीय मीडिया स्कूल पहुंची तो पाया की स्थिति बहुत खराब है जहां बच्चे खाना खा रहे हैं वहीं पर कुत्ता घूमता हुआ दिखाई दिया। स्कूल की शिक्षिका ने खुद अपने हाथ से राशन और अन्य सामान खोल कर दिखाया और स्कूल के मिड डे मील व्यवस्था की पोल खोलकर रख दी।टीचर के अनुसार वह कई बार बैरसिया के मिड-डे-मील प्रभारी योगेश सक्सेना से इसकी शिकायत कर चुकी हैं यही नहीं बच्चों के परिजन का पंचनामा भी बना कर दे चुकी है लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। वही जब वह मिड-डे-मल की शिकायत करती है तो मिड डे मील संचालक उनसे लड़ने लगता है और उल्टी उनकी शिकायत कर देता है।

मिड-डे मील देने वाले समूह को सस्पेंड

Children fall ill after consuming mid-day meal in bhopal:  तो वहीं इस पूरे मामले में बैरसिया के एसडीएम आदित्य जैन का कहना है कि परसों मिड डे मील खाने के बाद कुछ बच्चों के बीमार होने की शिकायत सामने आई थी। एक बच्ची बैरसिया अस्पताल में एडमिट है और एक प्राइवेट हॉस्पिटल में हैं। मैंने आज जाकर निरीक्षण किया है। समूह की गतिविधियां सही नहीं पाए जाने के बाद हमने समूह को सस्पेंड कर के नए समूह को खाना देने का बोला है। जिस जगह पर बच्चे खाना खा रहे थे वहां पर कुत्ते के घूमने की बात पर बोले कि हमने समूह को सस्पेंड कर दिया है नया समूह सोमवार से खाना देगा। वही परिजनों द्वारा समूह संचालक पर एफआईआर कराने की बात पर बोले कि हमने थाना प्रभारी को निर्देशित किया है जो भी इस मामले में दोषी पाए जाते हैं उनके विरुद्ध एफआइआर दर्ज की जाए। एक टीम बनाई जाएगी जो पूरे बैरसिया के मिड डे मील वितरण का निरीक्षण करेगी।

IBC24 की अन्य बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें