Narsinghpur News: लोकायुक्त की बड़ी कार्रवाई, रिश्ववत लेते रंगे हाथों पकड़े गए रेंजर और डिप्टी रेंजर... | Ranger and deputy ranger arrested for taking bribe

Narsinghpur News: लोकायुक्त की बड़ी कार्रवाई, रिश्ववत लेते रंगे हाथों पकड़े गए रेंजर और डिप्टी रेंजर…

Ranger and deputy ranger arrested for taking bribe: लोकायुक्त की बड़ी कार्रवाई, रिश्ववत लेते रंगे हाथों पकड़े गए रेंजर और डिप्टी रेंजर

Edited By :   Modified Date:  May 23, 2024 / 05:23 PM IST, Published Date : May 23, 2024/5:23 pm IST

Ranger and deputy ranger arrested for taking bribe: नरसिंहपुर। मध्यप्रदेश के नरसिंहपुर जिले से एक बड़ी खबर सामने आई है। मिली जानकारी मुताबिक नरसिंहपुर में लोकायुक्त पुलिस की टीम ने आज वन विभाग में एक रेंजर और डिप्टी रेंजर को 50 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया गया है। जबलपुर लोकायुक्त टीम वन विभाग गोटेगांव में पदस्थ रेंजर दिनेश मालवीय एवं डिप्टी रेंजर कमलेश सिंह चौहान को 50 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगेहाथ गिरफतार किया है।

Read more: Tank Ram Verma on Congress: कांग्रेस के दावों पर मंत्री टंक राम वर्मा ने कसा तंज, कहा- मुझे इनकी बातों पर हंसी आती है… 

जानें पूरा मामला

दरअसल, आवेदक योगेंद्र सिंह पटेल निवासी गया दत्त वार्ड स्टेशन गंज नरसिंहपुर टिम्बर मर्चेंट का व्यवसाय करते हैं। उन्होंने जबलपुर लोकायुक्त कार्यालय में रेंजर और डिप्टी रेंजर के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी। योगेंद्र सिंह पटेल ने वन विभाग से लकड़ी कटवाने की लिखित अनुमति ली थी, जिसके बाद 18 मई को शाम 7 बजे ग्राम सगड़ा गोटेगांव में एक किसान के खेत से सतकटा की लकड़ी कटवा कर हाइड्रा वाहन से ट्रक में भरवाया जा रहा था।

ट्रक में लकड़ी लोड होने के बाद टीपी लिया जाना था, इसी दौरान रेंजर दिनेश मालवीय और डिप्टी रेंजर कमलेश चौहान ने अपने स्टाफ के साथ ग्राम सगड़ा में मौके पर आकर हाइड्रा वाहन एवं लकड़ी भरे ट्रक को जब्त कर उसे श्याम नगर फॉरेस्ट चौकी गोटेगांव में खड़ा करवा दिया।

Read more: Imarti Devi on Jitu Patwari: जीतू पटवारी मामले में इमरती देवी ने प्रशासन से किया निवेदन, कहा- जल्दी से जल्दी उठा कर जेल में डालें… 

रंगे हाथों पकड़ाए रेंजर और डिप्टी रेंज

Ranger and deputy ranger arrested for taking bribe: जब आवेदक द्वारा रेंजर दिनेश मालवीय एवं डिप्टी रेंजर कमलेश चौहान से वाहनों और लकड़ी को छोड़ने का निवेदन किया तो उन दोनों के द्वारा मामला हल्का बनाने और कम जुर्माना लगाने के एवज में 50,000 की रिश्वत की मांग की गई, जिसकी शिकायत लोकायुक्त कार्यालय जबलपुर में की गई। फिलहाल, दोनों अधिकारियों को लोकायुक्त की तरफ से रंगे हाथों पकड़ लिया गया है।

 

देश दुनिया की बड़ी खबरों के लिए यहां करें क्लिक

Follow the IBC24 News channel on WhatsApp

खबरों के तुरंत अपडेट के लिए IBC24 के Facebook पेज को करें फॉलो

 

 
Flowers