नवरात्रि में डोंगरगढ़ जाने वाले दर्शनार्थियों के लिए रूट तय, जानें से पहले चेक कर लें वरना फंस जाएंगे आप |

नवरात्रि में डोंगरगढ़ जाने वाले दर्शनार्थियों के लिए रूट तय, जानें से पहले चेक कर लें वरना फंस जाएंगे आप

शारदीय नवरात्र पर्व के सफल संचालन एवं भीड़ नियंत्रण को लेकर प्रशासन ने ट्रेफिक व्यवस्था तथा दर्शनार्थियों की सुविधा के लिए मार्ग निर्धारण के आदेश जारी किए है।

Edited By: , September 25, 2022 / 10:55 AM IST

Route for visitors going to Dongargarh in Navratri: डोंगरगढ़। नवरात्र पर्व पर मेले में यातायात व्यवस्था तथा दर्शनार्थियों के लिए नए मार्ग के आदेश प्रशासन ने जारी कर दिए है। कल से प्रारंभ होने वाले शारदीय नवरात्र पर्व के सफल संचालन एवं भीड़ नियंत्रण को लेकर प्रशासन ने ट्रेफिक व्यवस्था तथा दर्शनार्थियों की सुविधा के लिए मार्ग निर्धारण के आदेश जारी किए है।

इस दौरान प्रशासन ने शहर के गणमान्य तथा जनप्रतिनिधियों से चर्चा की तथा यातायात व्यवस्था एवं स्थानीय तथा बाहर से आने वाले दर्शनार्थियों के लिए मार्ग व्यवस्था पर सुझाव लिए। पार्किंग तथा असमाजिक तत्वों द्वारा दुकानों से अवैध वसूली की शिकायत तुरंत थाने में करने की बात कही।

read more:  राहुल गांधी की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के हॉलीवुड में चर्चे, जानें किस एक्टर ने दिया अपना समर्थन

प्रशासन ने मार्ग को लेकर आदेश में डोगरगढ़ से राजनांदगांव जाने के लिए चिचोला रोड में गाजमर्रा, राजकट्टा, चंद्रगिरी, गुरूद्वारा पर्किंग चौक से कुरुभांट मुरमुंदा चौक, पटपर, उरईडबरी, तुमड़ीबोड होते हुए राजनादगांव दुर्ग- रायपुर पहुंचा जायेगा। उसी तरह राजनांदगांव से डोगरगढ़ आने वाले यात्रियों के लिए -तुमड़ीबोड-मुरमुदा चौक, बधियाटोला नरेन्द्र सॉ मिल, रेल्वे पटरी होते हुये नीचे मंदिर- हॉस्पीटल रोड-गौ-शाला पार्किंग होते हुए डोगरगढ पहुंचेंगे।

read more:  Rajsthan New CM: राजस्थान के नए पायलट बनेंगे ‘सचिन’? पलटने लगे गहलोत खेमे के मंत्री-विधायक

इसी तरह खैरागढ़ रोड व बोरतलाव से आने वाले यात्री थाना चौक- गौशाला पार्किंग कर पैदल पैदल नीचे मंदिर व ऊपर मंदिर जायेंगे। वहीं नागपुर चिचोला से आने वाले यात्री चिचोला- गाजमर्रा-राजकट्टा- गुरूद्वारा पार्किंग फिर पैदल-पैदल उपर मंदिर-नीचे मंदिर पहुंचेंगे। इसी प्रकार जाते समय गुरूद्वारा पार्किंग- प्रज्ञागिरी कुरुभांठ मुरमुंदा-मेढ़ा पटपर- उरईडबरी- नेशनल हाईवे में जाकर मिलेंगे। गौ शाला से नीचे मंदिर पैदल यात्री ही जायेगें। दो पहिया एवं चार पहिया वाहन प्रतिबंधित किया गया है।