Shree Dhanwantri Generic Medical Store Yojna

भूपेश सरकार की पहल से बीमार व जरूरतमंदों को मिली बड़ी राहत, लोगों को मिल रही सस्ती दर पर जेनेरिक दवाईयां

भूपेश सरकार की पहल से बीमार व जरूरतमंदों को मिली बड़ी राहत! Shree Dhanwantri Generic Medical Store Yojna

Edited By :   May 27, 2023 / 12:38 PM IST

रायपुर: Shree Dhanwantri Generic Medical Store Yojna मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व वाली छत्तीसगढ़ सरकार ने बीते चार वर्षों में प्रदेश की जनता के लिए कई अहम निर्णय लिए हैं। भूपेश सरकार ने हर वर्ग के लिए योजनाएं बनाई है, जिसका लाभ आज प्रदेश की जनता को मिल रहा है। वहीं प्रदेश में बीमार एवं जरूरतमंद लोगों के लिए भी सरकार ने कई अहम फैसले लिए हैं। इसी के बदौलत आज राज्य में बीमार व जरूरतमंदों को सस्ते और कम दामों में दवाईयां और उपचार मिल रहे हैं।

Read More: गौठान से बदली गौवंश एवं गौ पालकों की तकदीर, आजीविका सृजन एवं जीवनयापन का सशक्त माध्यम बन रहे गौठान

कम दामों में दवाईयां मुहैया कराना

Shree Dhanwantri Generic Medical Store Yojna मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जब से प्रदेश की कमान संभाली है, तब से ही वो गांव, गरीब और किसानों को लाभ पहुंचाने की सोच को साकार कर रहे हैं। गांव गरीब और किसानों को सस्ते दर पर जीवनरक्षक दवाएं उपलब्ध कराने के लिए भूपेश सरकार ने श्री धन्वंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर्स योजना शुरू की, जहां से जरूरतमंद लोगों को सीधे 60-70 प्रतिशत तक छूट में दवाएं मिलती हैं। आंकड़ों पर गौर करें तो अब तक मरीजों को 105 करोड़ रुपए से अधिक की बचत हो चुकी है, जिससे छत्तीसगढ़ के नागरिकों के जेब को बड़ी राहत मिली है।

Read More: जनजातियों के सामाजिक-आर्थिक विकास के लिए भूपेश सरकार ने किया अभिनव प्रयास, इन योजनाओं से खिल उठे आदिवासियों के चेहरे 

राज्य के सभी नगरीय निकायों में संचालित श्री धन्वंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर्स से ब्रांडेड कंपनियों की जेनेरिक दवाएं 50 से 70 प्रतिशत कम दाम पर उपलब्ध कराई जाती है। धन्वंतरी दवा दुकानों में सर्दी, खांसी, बुखार, ब्लड प्रेशर, इन्सुलिन के साथ गंभीर बीमारियों की दवा, एंटीबायोटिक, सर्जिकल आईटम भी रियायती मूल्य पर जरूरतमंदों को उपलब्ध कराए जा रहे हैं।

Read More: भूपेश सरकार की ‘बिजली बिल हाफ योजना’ से 42 लाख उपभोक्ताओं को मिला लाभ, आधे दर पर मिल रही बिजली 

20 अक्टूबर 2021 से हुई थी इस योजना की शुरूआत

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की पहल पर नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग द्वारा श्री धनवंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर योजना 20 अक्टूबर, 2021 से शुरू की गई है। योजना के तहत राज्य के समस्त 169 नगरीय निकायों में 195 श्री धनवंतरी मेडिकल स्टोर खोले गये हैं। वहीं, शासकीय चिकित्सकों को अस्पताल में इलाज हेतु आने वाले मरीजों को जेनेरिक दवाई लिखना अनिवार्य किया गया है। योजना से अब तक 173.63 करोड़ रुपए एमआरपी की दवाईयों के विक्रय पर 105 करोड़ 83 लाख रुपए की छूट जरूरतमंद लोगों को दी गई है।

Read More: छत्तीसगढ़ में PM आवास योजना के तहत पूरा हो रहा ‘अपना घर’ का सपना, हितग्राहियों को ​बांटे जा रहे अनुज्ञा प्रमाण पत्र 

इन जगहों पर संचालित हो रहे धनवंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर

रायपुर जिले में 20, गरियाबंद में चार, बलौदाबाजार-भाटापारा में सात, धमतरी में सात, महासमुंद में छह, दुर्ग में 19, बालोद में आठ, बेमेतरा में आठ, राजनांदगांव में पांच, खैरागढ़-छुईखदान-गंडई में तीन, मोहला-मानपुर-अम्बागढ़ में एक, कबीरधाम में छह, बिलासपुर में 10 तथा गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही जिले में दो, धनवंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर संचालित किए जा रहे हैं।

Read More: स्वामी आत्मानंद स्कूलों ने छत्तीसगढ़ में बदला शिक्षा का माहौल, गरीब और मेधावी छात्रों की प्रतिभा निखारने में निभा रहे अहम भूमिका 

इसी तरह से मुंगेली में चार, कोरबा में छह, जांजगीर-चांपा में नौ, सक्ती में छह, रायगढ़ में आठ, सारंगढ़-बिलाईगढ़ में पांच, जशपुर में पांच, सरगुजा में चार, बलरामपुर में पांच, सूरजपुर में छह, कोरिया में दो, मनेन्द्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर में पांच, बस्तर में तीन, कोण्डागांव में तीन, नारायणपुर में एक, कांकेर में छह, दंतेवाड़ा में पांच सुकमा में तीन और बीजापुर जिले में तीन धनवंतरी जेनेरिक मेडिकल स्टोर संचालित किए जा रहे हैं।

देश दुनिया की बड़ी खबरों के लिए यहां करें क्लिक