Shilpa Shetty gave Shakti Samman to Dr. Chandni Chandrakar

IBC24 Shakti Samman 2024 : कड़ी मेहनत से हर बाधा को किया दूर, बलौदाबाजार में स्थापित किया पहला टेस्ट ट्यूब बेबी सेंटर, IBC24 ने शक्ति सम्मान से किया सम्मानित

कड़ी मेहनत से हर बाधा को किया दूर, बलौदाबाजार में स्थापित किया पहला टेस्ट ट्यूब बेबी सेंटरः Shilpa gave Shakti Samman to Dr. Chandni Chandrakar

Edited By :   Modified Date:  April 5, 2024 / 09:02 PM IST, Published Date : April 5, 2024/8:31 pm IST

रायपुर। मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़ का नंबर वन न्यूज चैनल IBC24 ने खबरों के साथ-साथ सामाजिक सरोकार को हमेशा से प्रमुखता दी है। समय-समय पर कार्यक्रम आयोजित कर विभिन्न प्रतिभाओं को सम्मानित करता रहा है। इसी कड़ी में अब छत्तीसगढ़ की प्रतिभावान महिलाओं को सम्मानित करने शक्ति सम्मान समारोह का आयोजन रायपुर में किया है। इस कार्यक्रम में बॉलीवुड एक्ट्रेस शिल्पा शेट्टी बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुई। उन्होंने प्रदेश की 25 महिलाओं को शक्ति सम्मान प्रदान किया। सम्मान प्राप्त करने वालों में धमतरी जिले की बेटी और बालौदाबाजार जिले की बहू डॉ. चांदनी चंद्राकर भी शामिल है। उन्होंने चिकित्सा के क्षेत्र में नए मुकाम हासिल किए हैं।

11 सिंतबर 1987 को धमतरी जिले के एक छोटे से कस्बे कुरुद में जन्मी डॉ. चांदनी चंद्राकर वर्मा बचपन से ही मेधावी रहीं। उनके पिता शिक्षक और माता जी गृहणी है। 10वीं क्लास में मिले अपने पिता के गोल्ड मेडल को देखकर उनसे प्रेरणा लेने वाली डॉ. चांदनी 2008 में PMT की परीक्षा पास की और रायपुर के मेडिकल कालेज में दाखिल ली। उन्हें एनाटामी में गोल्ड मेडल मिला। इसके बाद उन्होंने 2015 में पीजी की परीक्षा पास की। 2018 में लेप्रोस्कोपी एंव इनपुटीलिटरी में फेलोशिप किया। U.S.A. एंव दुबई से भी पढ़ाई की है। साथ ही दिल्ली के मुख्य हास्पिटलों में अपनी सेवाएं दी है।

Read More : IBC24 Shakti Samman 2024 : लगन ने इंदू राठौर को बनाया सफल इंटीरियर डिजाइनर, पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ में रखती है परफेक्ट बैलेंस, IBC24 ने शक्ति सम्मान से किया सम्मानित

अपने राज्य में कुछ कर गुजरने का जज्बा लिए डा. चांदनी दिल्ली में कुछ दिनों की सेवा के बाद वापस रायपुर लौट आई। इसी बीच उनका विवाह बलौदाबाजार जिले के पलारी निवासी डा. देवेश वर्मा से हुआ। दोनों ने मिलकर अपने गांव पलारी में आनंद हास्पिटल की शुरुआत करने की सोची। इसी बीच कोरोना के चलते लॉकडाउन लग गई और देश में आम जनजीवन बेटपरी हो गई, लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी। लबें समय के संघर्ष के बाद अंतत 2022 मई में बलौदाबाजार में आनंद हास्पिटल की शुरुआत हुई। यह जिले का पहला टेस्ट ट्‌यूब बेबी सेंटर बना। बहुत सारे निसंतान महिलाएं जिनको मां बनने की कोई उम्मीद नही थीं, वो आज हंसी खुशी बच्चों की किलकारी का आनंद ले रहे है। जल्द ही खरोरा में आनंद हास्पिटल का एक नया पड़ाव का शुभारंभ होने वाला है।

पिता का था डॉक्टर बनने का सपना

डा. चांदनी बताती है कि उनके पिता का सपना डॉक्टर बनने का था, लेकिन उस समय पैसे की कमी चलते वह एमबीबीएस की पढ़ाई नहीं कर पाए। जिस दिन उनके पापा ने उनसे ये बात कही, उसी दिन चांदनी ने ठान लिया कि एक दिन डॉक्टर बनकर पापा का सपना पूरा करुंगी।

IBC24 का लोकसभा चुनाव सर्वे: देश में किसकी बनेगी सरकार ? प्रधानमंत्री के तौर पर कौन है आपकी पहली पसंद ? क्लिक करके जवाब दें

Follow the IBC24 News channel on WhatsApp

 
Flowers