टॉप्ली के छह विकेट से इंग्लैंड ने भारत को 100 रन से हराया |

टॉप्ली के छह विकेट से इंग्लैंड ने भारत को 100 रन से हराया

टॉप्ली के छह विकेट से इंग्लैंड ने भारत को 100 रन से हराया

: , November 29, 2022 / 09:00 PM IST

लंदन, 14 जुलाई (भाषा) तेज गेंदबाज रीस टॉप्ली के करियर की सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी से इंग्लैंड ने गुरुवार को यहां दूसरे एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में भारत को 100 रन से हराकर तीन मैच की एकदिवसीय श्रृंखला 1-1 से बराबर कर दी।

इंग्लैंड के 247 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत टॉप्ली (24 रन पर छह विकेट) की तूफानी गेंदबाजी के सामने 38.5 ओवर में सिर्फ 146 रन पर सिमट गया। भारत का कोई बल्लेबाज 30 रन के आंकड़े को भी नहीं छू पाया। हार्दिक पंड्या (29), रविंद्र जडेजा (29), सूर्यकुमार यादव (27) और मोहम्मद शमी (23) ने क्रीज पर टिकने के बाद विकेट गंवाए।

इंग्लैंड की टीम भी लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल (47 रन देकर चार विकेट), हार्दिक (28 रन पर दो विकेट) और जसप्रीत बुमराह (49 रन पर दो विकेट) की धारदार गेंदबाजी के सामने 49 ओवर में 246 रन पर ढेर हो गई थी।

इंग्लैंड का कोई बल्लेबाज अच्छी शुरुआत को बड़ी पारी में नहीं बदल पाया। मोईन अली और डेविड विली की अर्धशतकीय साझेदारी से टीम ने विषम परिस्थितियों से उबरते हुए चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा किया।

मोईन ने 47 रन बनाए जबकि विली ने दो जीवनदान का फायदा उठाते हुए 41 रन की पारी खेली। दोनों ने सातवें विकेट के लिए 62 रन की साझेदारी की। मोईन ने लियाम लिविंगस्टोन (33) के साथ भी छठे विकेट के लिए 46 रन जोड़े। सलामी बल्लेबाज जॉनी बेयरस्टो ने 38 रन बनाए।

लक्ष्य का पीछा करने उतरे भारत की शुरुआत बेहद खराब रही और टीम ने 31 रन तक ही चार विकेट गंवा दिए जिससे टीम कभी नहीं उबर पाई। भारतीय बल्लेबाजों को इंग्लैंड के तेज गेंदबाजों टॉप्ली और विली ने काफी परेशान किया। टीम ने तीसरे ओवर में कप्तान रोहित शर्मा (00) का विकेट गंवाया जिन्हें टॉप्ली ने पगबाधा किया।

भारत का बल्ले से पहला रन 27वीं गेंद पर बना जब शिखर धवन ने पांचवें ओवर में टॉप्ली की गेंद पर एक रन लिया। विराट कोहली ने इसी ओवर में पारी का पहला चौका जड़ा और फिर इस तेज गेंदबाज के अगले ओवर में भी लगातार दो चौके मारे।

धवन 26 गेंद में नौ रन बनाने के बाद टॉप्ली की गेंद पर विकेटकीपर जोस बटलर को कैच दे बैठे।

भारत ने ऋषभ पंत को बल्लेबाजी क्रम में ऊपर भेजा लेकिन वह ब्राइडन कार्स की फुलटॉस को मिड आन पर सीधे क्षेत्ररक्षक के हाथों में खेल गए।

कोहली (16) भी अगले ओवर में विली की आफ साइड से बाहर की ओर मूव होती गेंद पर बल्ला छुआकर बटलर को कैच दे बैठे।

सूर्यकुमार और हार्दिक ने इसके बाद पारी को आगे बढ़ाया। दोनों ने 15वें ओवर में टीम का स्कोर 50 रन के पार पहुंचाया।

सूर्यकुमार ने कार्स पर पारी का पहला छक्का जड़ा लेकिन टॉप्ली की गेंद को विकेटों पर खेल गए। उन्होंने 29 गेंद में 27 रन बनाए।

हार्दिक भी इसके बाद मोईन की गेंद पर लिविंगस्टोन को कैच दे बैठे।

भारत के रनों का शतक 27वें ओवर में पूरा हुआ।

शमी ने आते ही तेवर दिखाए। उन्होंने मोईन पर चौके से खाता खोला और फिर इस आफ स्पिनर के अगले ओवर में छक्का मारा। उन्होंने जडेजा के साथ मिलकर टीम का स्कोर 140 रन तक पहुंचाया लेकिन इससे बाद भारत ने लगातार गेंदों पर इन दोनों के विकेट गंवा दिए।

शमी को टॉप्ली ने स्टोक्स के हाथों कैच कराया जबकि जडेजा को लिविंगस्टोन ने बोल्ड किया।

टॉप्ली ने चहल (03) को बोल्ड करके करियर में पहली बार पारी में पांच विकेट हासिल किए और फिर प्रसिद्ध कृष्णा (00) को बटलर के हाथों कैच कराके इंग्लैंड को जीत दिलाई।

इससे पहले भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। बेयरस्टो और जेसन रॉय (23) ने बुमराह और मोहम्मद शमी (48 रन पर एक विकेट) की नई गेंद की जोड़ी का डटकर सामना किया जिन्होंने पहले वनडे में मिलकर नौ विकेट चटकाए थे।

रॉय ने शमी पर पारी का पहला चौका जड़ा और फिर इस तेज गेंदबाज के ओवर में चौका और छक्का मारा। रॉय आठवें ओवर में 23 रन के स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब बुमराह ने अपनी ही गेंद पर उनका कैच टपका दिया।

रॉय हालांकि जीवनदान का फायदा नहीं उठा पाए और पंड्या की खराब गेंद को डीप बैकवर्ड स्क्वायर लेग पर सीधे सूर्यकुमार यादव के हाथों में खेल गए।

रॉय के आउट होने के बाद बेयरस्टो ने मोर्चा संभाला। उन्होंने चहल पर चौका जड़ने के बाद प्रसिद्ध कृष्णा पर भी दो चौके मारे।

बेयरस्टो हालांकि पारी के 15वें ओवर में चहल की गेंद पर स्लॉग स्वीप खेलने की कोशिश में चूककर बोल्ड हो गए। उन्होंने 38 गेंद का सामना करते हुए छह चौके मारे।

चहल ने अपने अगले ओवर में जो रूट (11) को पगबाधा किया जबकि शमी ने जोस बटलर (04) को बोल्ड करके इंग्लैंड का स्कोर चार विकेट पर 87 रन किया।

इंग्लैंड के टेस्ट कप्तान बेन स्टोक्स (21) भी चहल की सीधी गेंद को चूककर पगबाधा हुए।

लियाम लिविंगस्टोन ने चहल की गेंद पर लांग आन पर पारी का पहला छक्का जड़ा। इंग्लैंड के रनों का शतक 21वें ओवर में पूरा हुआ।

लिविंगस्टोन ने पंड्या की लगातार गेंदों पर भी छक्का और चौका मारा लेकिन इसी तेज गेंदबाज की अगली गेंद को डीप स्क्वायर लेग पर स्थानापन्न खिलाड़ी श्रेयस अय्यर के हाथों में खेल गए। उन्होंने 33 गेंद का सामना करते हुए दो छक्के और दो चौके मारे।

मोईन और विली ने इसके बाद पारी को संभाला। विली एक रन के निजी स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब पंड्या की गेंद पर कृष्णा ने उनका कैच टपका दिया। मोईन और विली दोनों ने कृष्णा पर छक्के मारे।

विली को 24 रन के स्कोर पर पंड्या ने शमी की गेंद पर दूसरा जीवनदान दिया। शमी के पारी इसी 40वें ओवर में इंग्लैंड के रनों का दोहरा शतक भी पूरा हुआ।

मोईन ने बुमराह पर अपना दूसरा छक्का जड़ा लेकिन चाहल ने गेंदबाजी में वापसी करते हुए उन्हें जडेजा के हाथों कैच करा दिया। मोईन ने 64 गेंद का सामना करते हुए दो छक्के और दो चौके मारे।

विली ने बुमराह पर छक्का मारा लेकिन इसी ओवर में अय्यर को कैच दे बैठे। उन्होंने 49 गेंद की अपनी पारी में दो चौके और दो छक्के मारे।

बुमराह ने टॉप्ली (03) को बोल्ड करके इंग्लैंड की पारी का अंत किया।

भाषा सुधीर

सुधीर

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)