घायल महिला की इलाज के दौरान मौत, परिजनों का हंगामा, अस्पताल में तोड़फोड़

घायल महिला की इलाज के दौरान मौत, परिजनों का हंगामा, अस्पताल में तोड़फोड़

Edited By: , March 25, 2021 / 09:10 PM IST

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के टाटीबंध इलाके में हुई सडक दुर्घटना में महिला के मौत के बाद परिजनो ने आधी रात को अस्पताल में जमकर हंगामा करते हुए और अस्पताल में तोफो कर दी

बताया जा रहा है कि कबीर नगर निवासी बिंदा सिंह(56) नाम महिला अपने पति के साथ रिंगरोड से होते हुए घर जा रही थी कि बाइक स्लिप हो जाने की वजह से  वह गिर गई और सिर में गंभीर चोट लगने से घायल हो गई। उन्हें पास के जीवन ज्योति अस्पताल में ले जाया गया जहां उनकी इलाज के दौरान मौत हो गई। इसके बाद परिजनों ने अस्पताल के डॉक्टर अनिल कांबले पर गलत इलाज करने और इलाज में देरी करने से मौत होने के आरोप लगाते हुए अस्पताल में जमकर तोड़फोड करते हुए हंगामा किया और डॉक्टर अनिल कांबले की जमकर पिटाई कर दी

यह भी पढ़ें : छत्तीसगढ़ के बड़े स्पंज आयरन कारोबारियों पर आयकर की दबिश, रायपुर-बिलासपुर के ठिकानों पर जांच

परिजनों का आरोप है कि जीवन ज्योति अस्पताल के संचालक डॉक्टर अनिल कांबले के पास डॉक्टर होने की कोई डिग्री नहीं है, उसके बावजूद उन्होने मरीज को अस्पताल में इलाज के नाम पर रोके रखा और समय रहते दूसरे अस्पताल भी नहीं ले जाने दिया जिससे महिला की मौत हो गई

सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची आमानाका पुलिस ने मौजूद परिजनों को उचित कार्रवाई का भरोसा दिलाते हुए 2 घंटे तक चले हंगामे को खत्म करवायाहीं महिला का इलाज करने वाले डॉक्टर अनिल कांबले का कहना है कि महिला सक हादसे के बाद काफी गंभीर हालत में अस्पताल लाई गई थी। उसे प्रारंभिक उपचार के बाद किसी बड़े अस्पताल में शिफ्ट करवाते लेकिन महिला ने प्रारंभिक इलाज में ही दम तोड दियाडॉक्टर के मुताबिक ऐसे हादसों में घायल का जो इलाज किया जाता है, वह हरसंभव इलाज किया गया फिलहाल पुलिस ने मर्ग कायम कर पुरे मामले की जांच शुरू कर दी है

वेब डेस्क, IBC24