पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने विपक्ष के अविश्वास प्रस्ताव पर अटॉर्नी जनरल से राय मांगी |

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने विपक्ष के अविश्वास प्रस्ताव पर अटॉर्नी जनरल से राय मांगी

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने विपक्ष के अविश्वास प्रस्ताव पर अटॉर्नी जनरल से राय मांगी

:   November 29, 2022 / 08:01 PM IST

इस्लामाबाद, नौ मार्च (भाषा) पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अटॉर्नी जनरल से भेंट की और उनसे विपक्षी दलों द्वारा लाये गये अविश्वास प्रस्ताव पर कानूनी राय मांगी। विपक्ष ने इमरान खान सरकार को अनियंत्रित महंगाई के लिए जिम्मेदार ठहराया है।

डॉन अखबार के अनुसार सरकार परेशान है और वह खान की अगुवाई वाली पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) सरकार को सत्ता से बेदखल करने के विपक्ष के कदम को विफल करने के लिए जी-जान से कोशिश कर रही है। खान पहले ही दावा कर चुके हैं कि उन्हें शक्तिशाली पाकिस्तानी सेना का समर्थन प्राप्त है।

मंगलवार को नेशनल असेम्बली के सचिवालय को अविश्वास प्रस्ताव सौंपा गया जिस पर पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) और पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के करीब 100 सांसदों के हस्ताक्षर हैं।

खान (69) गठबंधन सरकार की अगुवाई कर रहे हैं। यदि उनके कुछ सहयोगी पाला बदलने का फैसला करते हैं तो उन्हें अपदस्थ किया जा सकता हैं क्योंकि संसदीय लोकतंत्र में पाला बदलना कोई असामान्य बात नहीं है।

अखबार के अनुसार पंजाब के मुख्यमंत्री उस्मान बुजदार से भेंट करने के अलावा प्रधानमंत्री ने अटॉर्नी जनरल खालिद जावेद खान से भी मुलाकात की और अविश्वास प्रस्ताव पर उनकी राय मांगी।

अखबार के अनुसार प्रधानमंत्री का मुत्तहिदा कौमी मूवमेंट, ग्रांड डेमोक्रेटिक अलायंस समेत पीटीआई के सहयोगी दलों के नेताओं तथा सिंध में अपनी पार्टी के नेताओं के साथ भी बैठक करने का कार्यक्रम है।

सचिवालय में विपक्ष के अविश्वास प्रस्ताव सौंपने के शीघ्र बाद खान ने कहा कि वह कहीं नहीं जा रहे हैं और उन्हें विपक्ष के कदम का डर नहीं है।

डॉन की खबर है कि नेशनल असेम्बली के अध्यक्ष द्वारा 22 मार्च तक सत्र बुलाने की संभावना है तथा अविश्वास प्रस्ताव 26-30 मार्च के बीच होना चाहिए।

भाषा

राजकुमार वैभव

वैभव

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Flowers