Spontaneous Abortion : Risk of preterm birth after covid-19 vaccination

इस कोरोना वैक्सीन को लगवाने के बाद 40 प्रतिशत गर्भवती महिलाओं का हुआ गर्भपात, रिपोर्ट में हुआ सनसनीखेज खुलासा

40 प्रतिशत गर्भवती महिलाओं का हुआ गर्भपात! Spontaneous Abortion : Risk of preterm birth, small gestational age at birth

Edited By: , August 19, 2022 / 02:21 PM IST

वॉशिंगटनः Spontaneous Abortion कोरोना संक्रमण ने दुनियाभर में जमकर तबाही मचाई है, करोड़ों लोगों ने संक्रमण की चपेट में आकर अपनी जान गंवा दी। संक्रमण से राहत के लिए दुनियाभर में लोगों को वैक्सीन लगाई गई। भारत सहित कई बड़े देशों ने अपने ही देश में वैक्सीन बनाई और जनता की रक्षा की। साथ ही कई देशों में वैक्सीन की सप्लाई भी की। लेकिन इस बीच अमेरिकी कोरोना वैक्सीन फाइजर को लेकर एक चिंताजनक खबर सामने आई है।

बड़ी लापरवाही! स्कूल में तिरंगा फहराते ही बजा दिया “बुंदेली राई“ सॉन्ग, भारी बारिश के बीच बच्चों सहित शिक्षक भी थिरके, वीडियो वायरल

Spontaneous Abortion दरअसल एक रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ है कि फाइजर की एमआरएनए वैक्सीन ट्रायल में भाग लेने वाली 40 प्रतिशत महिलाएं गर्भपात की शिकार हुईं हें। इस चौंकाने वाली खबर के बारे में आरएसएस की संस्था प्रज्ञा प्रवाह के राष्ट्रीय समन्वयक नंदकुमार ने ट्वीट करते हुए कहा कि, भारत का उदारवादी और लुटियंस मीडिया इसी वैक्सीन को आयात किए जाने का दबाव पीएम मोदी पर डाल रहे थे। गनीमत है कि भारत ने कोविशील्ड और कोवैक्सीन पर विश्वास किया।

Read More: Janmashtami 2022 : सीएम शिवराज ने राधाकृष्‍ण मंदिर पहुंचकर किया बाल गोपाल का पूजन…

फाइजर द्वारा जारी दस्तावेजों से पता चला है कि वैक्सीन ट्रायल में शामिल होने वाली 50 गर्भवती महिलाओं में से 22 ने अपने बच्चों को खो दिया। लेखिका और पत्रकार डॉ. नाओमी वुल्फ ने स्टीव बैनन के वॉर रूम पॉडकास्ट पर इस बात का खुलासा किया है।

Read More: CM भूपेश बघेल ने प्रदेशवासियों को दी कृष्ण जन्माष्टमी की बधाई, कहा – आज से शुरू हो रहा नया अध्याय

गौरतलब है कि पिछले साल भारत में कोरोना की दूसरी लहर के दौरान फाइजर ने अपनी कोरोना वैक्सीन भारतीय बाजार में उतारने के लिए केंद्र सरकार से इजाजत मांगी थी। कंपनी और सरकार के बीच लंबे समय तक इसे लेकर बातचीत चलती रही। लेकिन अगस्त 2021 में यह बताया गया कि मोदी सरकार ने फाइजर को मंजूरी देने से इनकार कर दिया।

Read More: कैदियों की रिहाई पर P. C. Sharma का बयान | सुनिए क्या कहा…

देश दुनिया की बड़ी खबरों के लिए यहां करें क्लिक