Today International Youth Day is being celebrated all over the world |

आज पूरे विश्व में मनाया जा रहा है अन्तरराष्ट्रीय युवा दिवस, आखिर कब से हुई इसकी शुरूआत, जानिए पूरी कहानी

Edited By: , August 12, 2022 / 01:00 PM IST

International youth day : 12 अगस्त को पूरा विश्व अतंरराष्ट्रीय युवा दिवस मना रहा है। प्रतिवर्ष इसी दिन 12 अगस्त को विश्व युवा दिवस मनाया जाता है। किसी भी देश का युवा उस देश के विकास का सशक्त आधार होता हैए लेकिन जब यही युवा अपने सामाजिक और राजनैतिक जिम्मेदारियों को भूलकर विलासिता के कार्यों में अपना समय नष्ट करता हैए तब देश बर्बादी की ओर अग्रसर होने लगता है। पहली बार सन 2000 में अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस का आयोजन किया गया था। अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस मनाने का मतलब है कि सरकार युवाओं के मुद्दों और उनकी बातों पर ध्यान आकर्षित करे। संयुक्त राष्ट्र संघ के निर्णयानुसार सन 1985  को अंतरराष्ट्रीय युवा वर्ष घोषित किया गया।>>*IBC24 News Channel के WHATSAPP  ग्रुप से जुड़ने के लिए  यहां CLICK करें*<<

read more : read more : महाकाल मंदिर में भाजपा कार्यकर्ताओं की दादागिरी! युवा मोर्चा और सुरक्षाकर्मियों के बीच हुई झड़प, तोड़े बैरिकेड्स 

भारत देश “युवाओं का देश”

International youth day : विश्व में भारत को युवाओं का देश कहा जाता है। हमारे देश में श्रमशक्ति उपलब्ध है। आवश्यकता है आज हमारे देश की युवा शक्ति को उचित मार्ग दर्शन देकर उन्हें देश की उन्नति में भागीदार बनाने की, उनमे अच्छे संस्कार, उचित शिक्षा एवं प्रोद्यौगिक विशेषज्ञ बनाने की, उन्हें बुरी आदतों जैसे. नशा, जुआ, हिंसा इत्यादि से बचाने की। क्योंकि चरित्र निर्माण हीन देश की, समाज की, उन्नति के लिए परम आवश्यक है। दुश्चरित्र युवा न तो अपना भला कर सकता है, न समाज का और न ही अपने देश का। देश के निर्माण के लिए, देश की उन्नति के लिए, देश को विश्व के विकसित राष्ट्रों की पंक्ति में खड़ा करने के लिए युवा वर्ग को ही मेधावी, श्रमशील, देश भक्त और समाज सेवा की भावना से ओत प्रोत होना होगा।

read more : Vastu Tips In Hindi : घरों में भूलकर भी न लगाएं ये 5 पौधे, दुर्भाग्य और परेशानियों का होता है वास, आज ही कर दें बाहर

विश्व युवा दिवस क्यों मनाया जाता है?

International youth day : अन्तर्राष्ट्रीय युवा दिवस मनाने का उद्देश्य युवाओं की भागीदार सामाजिक, राजनीतिक और आविष्कार करने वाले युवा को सम्मानित किया जा सके। जहां परिवर्तन अनेकों उपलब्धियां सुविधाएं और चमत्कार लेकर आ रहा है वहीं युवा वर्ग के लिए तीव्र गति से भागने की क्षमता की चुनौती भी ला रही है, ताकि युवा वर्ग इतना क्षमतावान हो कि वह तेजी से हो रहे परिवर्तन को समझ सके उसे अपना सके नई खोज नई तकनीकों की जानकारी प्राप्त कर अपने कार्यशैली परिवर्तित कर सके। आज के युवा वर्ग को विश्व स्तरीय प्रतिस्पर्धा में शामिल होना आवश्यक हो गया है। यह प्रतिस्पर्धा एक और समाज को सुख शांति तक पहुंचाने के लिए प्रयासरत है, और दूसरी तरफ चिंता, निराशा, व्यसन और बेलगाम उपद्रव की ओर आगे बढ़ा रही है, इसलिए ऐसे कार्यक्रम आयोजित कर युवाओं को मोटीवेट किया जाता है।

और भी लेटेस्ट और बड़ी खबरों के लिए यहां पर क्लिक करें