BJP and RSS are working on their hidden agenda in Chhattisgarh

‘फूट डालो और राज करो’… BJP-RSS का हिडन एजेंडा! क्या संघ प्रमुख की सक्रियता से घबरा गई है कांग्रेस?

'फूट डालो और राज करो'... BJP-RSS का हिडन एजेंडा! BJP and RSS are working on their hidden agenda in Chhattisgarh

Edited By: , November 29, 2022 / 08:51 PM IST

सौरभ सिंह परिहार/रायपुरः फूट डालो राज करो ये अंग्रेजों के लिए कहा जाता था, लेकिन आज कांग्रेस के स्टेट हेड मोहन मरकाम ने ये संघ प्रमुख मोहन भागवत के लिए कहा है। साथ ही उन्होंने कहा कि बीजेपी और आरएसएस अपने हिडन एंजेडे पर काम कर रही हैं। अब ऐसे में ये सवाल उठ रहा है कि बीजेपी और आएसएस का हिडन एंजेडा क्या है। जनता के सामने बीजेपी ने भी इसका जवाब दिया..बीजेपी ने कहा पहले आरएसएस की ABCD तो जान लीजिए। जहां-जहां कांग्रेस सरकार, वहां सामाजिक सौहार्द बिगड़ता है।

Read More : अभिनेत्री सामंथा को एक शख्स ने दी थी ऐसी सलाह, कहा था कि ‘नागा को तलाक दे दो और मुझसे कर लो शादी…’ 

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम का ये बयान संघ प्रमुख मोहन भागवत के जशपुर दौरे को लेकर आया है। मरकाम ने छत्तीसगढ़ में संघ सक्रियता के बहाने बीजेपी और RSS पर जमकर निशाना साधा है। दरअसल संघ प्रमुख सोमवार को स्वर्गीय दिलीप सिंह जूदेव की प्रतिमा का अनावरण करने जशपुर पहुंचे तो कांग्रेस ने आरोप लगाया कि जिन राज्यों में चुनाव होने हैं। वहां बीजेपी और RSS अपने एजेंडे के तहत काम करते हैं।

Read More : Khesarilal Yadav Video viral: खेसारी लाल यादव ने मेघाश्री के साथ किया रोमांस, तेजी से वायरल हो रहा ये वीडियो 

कांग्रेस ने संघ प्रमुख पर आरोपों के तीर चलाया तो भला बीजेपी कैसे चुप रहती। बीजेपी नेताओँ ने पलटवार किया कि कांग्रेस और उसके प्रदेश अध्यक्ष को RSS की ABCD भी नहीं मालूम वो बयानबाजी कर माहौल खराब कर रहे हैं। वैसे ये पहला मौका नहीं जब कांग्रेस ने संघ पर हमला बोला है। दरअसल RSS हमेशा से बीजेपी के लिए संकटमोचक का काम करता रहा है और 2018 मे संघ की नाराजगी भी बीजेपी की हार की वजह की बड़ी वजह मानी जाती है। कांग्रेस भी जानती है कि अगले चुनाव तक बीजेपी के लिए माहौल बदलने में संघ काफी मदद कर सकता है। शायद ही वजह है कि पिछले 2 महीने में संघ प्रमुख के दूसरी बार छत्तीसगढ़ दौरे को उनका हिडन एजेंडा बता दिया। अब सवाल है कि क्या वाकई संघ और बीजेपी हिडन एजेंडे पर काम करता है या फिर संघ प्रमुख की सक्रियता से घबरा गई है?