Pendra rape case: रेप के समय बेहोश हुई नाबालिग, पोल्ट्री फार्म में छोड़कर भागे दरिंदे, अब पुलिस ने दबोचा |

Pendra rape case: रेप के समय बेहोश हुई नाबालिग, पोल्ट्री फार्म में छोड़कर भागे दरिंदे, अब पुलिस ने दबोचा

Minor fainted during rape in chhattisgarh pendra:

Edited By :   Modified Date:  May 23, 2024 / 04:14 PM IST, Published Date : May 23, 2024/4:14 pm IST

Pendra rape case: जीपीएम: पेंड्रा में कुछ दिनों पहले सोशल मीडिया में हुई दोस्ती के बाद युवक ने नाबालिक को बहला फुसला कर प्रेम जाल में फंसा लिया और अपने दोस्त के साथ मिलकर नाबालिग को सुने पोल्ट्री फार्म ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया था। जहां नाबालिग के बेहोश होने पर आरोपी भाग खड़े हुए थे। वहीं मामले की शिकायत मिलने पर पुलिस ने अपराध दर्ज करते हुए दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

दरअसल, पूरा मामला पेंड्रा थाना क्षेत्र का है। जहां पर लटकोनी खुर्द गांव का रहने वाले युवक विवेक पोर्ते ने सोशल मीडिया के माध्यम से मरवाही थाना क्षेत्र की रहने वाली नाबालिग को 15 दिन पहले दोस्त बनाया और उसके बाद उसे लगातार मिलने के लिए दबाव बना रहा था। वहीं लगभग 15 दिन पुरानी दोस्ती पर युवक के झांसे में नाबालिग आ गई और आरोपी विवेक पोर्ते के साथ मोटर साइकिल में घूमने के लिए तैयार हो गई और वह दोनों मोटरसाइकिल से सवार होकर घूमने चले गए।

read more:  MP Nursing College Scam Case: नर्सिंग कॉलेज घोटाले में बड़ा खुलासा। घूसखोर अधिकारियों ने रखे थे दलाल

वहीं रास्ते में आरोपी युवक विवेक पोर्ते का दूसरा साथी देवन सिंह आयाम भी मिला जो स्वयं भी मोटरसाइकिल में सवार हो गया था। इसके बाद दोनों ने पेंड्रा से मरवाही के मुख्यमार्ग पर स्थित कोदवाही गांव में सुने पोल्ट्री फार्म में ले जाकर नाबालिग क़े साथ दुष्कर्म किया। वहीं नाबालिग जब बेहोश हो गई तो आरोपियों ने नाबालिग को वहीं छोड़कर फरार हो गए थे। इसके बाद बच्ची को जब होश आया तब उसने शोर मचाया, जिसके बाद आसपास के ग्रामीण वहां पहुंचे और बच्ची को पोल्ट्री फार्म से बाहर निकाला और बच्ची के परिजनों को भी मामले की जानकारी दी गई।

read  more:  खेल मंत्रालय ने ओलंपिक से पहले लक्ष्य और सिंधू की विदेश में ट्रेनिंग को स्वीकृति दी

जिसके बाद मौके पर पहुंचकर परिजनों ने बच्ची शासकीय अस्पताल में भर्ती कराया। जहां पर बच्ची का इलाज जारी है तो वहीं पुलिस को सूचना मिलते ही पुलिस ने बच्ची और परिजनों के बयान के आधार पर तत्काल आरोपियों की पतासाजी के लिए साइबर सेल और पेण्ड्रा पुलिस की टीम बनाई गई। टीम ने आरोपियों को बाहर फरार होने से पहले दबोच लिया और बच्ची और परिजनों के बयान के आधार पर दोनों आरोपियों के खिलाफ अपराध दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया है और न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया गया है।

देश दुनिया की बड़ी खबरों के लिए यहां करें क्लिक

Follow the IBC24 News channel on WhatsApp

खबरों के तुरंत अपडेट के लिए IBC24 के Facebook पेज को करें फॉलो

 
Flowers