योजनाओं पर युद्ध! रमन सिंह ने पूछा- UP की बेटियों को स्मार्ट फोन दिए जाएंगे, तो छत्तीसगढ़ की बेटियों से छल क्यों?

योजनाओं पर युद्ध! Raman Singh asked- If the daughters of UP will be given smart phones, then why cheat the daughters of Chhattisgarh?

Edited By: , October 23, 2021 / 03:04 PM IST

Raman Singh on Daughters of Chhattisgarh

रायपुरः कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी ने यूपी में बेटियों को स्मार्टफोन देने का वादा किया तो, छत्तीसगढ़ की सियासत में बवाल मच गया। पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने ट्वीट कर कांग्रेस सरकार से सवाल पूछा कि यूपी की बेटियों को स्मार्ट फोन दिए जाएंगे, तो छत्तीसगढ़ की बेटियों से छल क्यों? पूर्व मुख्यमंत्री के आरोपों पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पलटवार करते हुए कहा कि आपने केवल कमीशन के चक्कर में मोबाइल बांटने की योजना शुरू की थी। जाहिर है यूपी में कांग्रेस के फ्री स्मार्टफोन वाले दांव ने छत्तीसगढ़ के सियासी पारा को गरम कर दिया है। अब सवाल ये है कि.. योजनाओँ के बहाने आरोप-प्रत्यारोप महज सियासी स्टंट है? इससे प्रदेश की जनता को कितना लाभ मिलेगा?

Read More: ’शराब और पैसा बांट रहे कांग्रेस प्रत्याशी’, बीजेपी के प्रतिनिधिमंडल ने चुनाव आयोग से की शिकायत

यूपी में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए बिसात बिछनी शुरू हो गयी है। 2022 में होने वाले दंगल में कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी ने भी अपना दांव चल दिया है। महिला वोटर्स को साधने के लिये ’मैं लड़की हूं, लड़ सकती हूं’ कैंपेन चलाने के साथ ही एक नया पांसा फेंका है। वो है लड़कियों को लिये मुफ्त स्कूटी और स्मार्टफोन.. प्रियंका गांधी ने ट्वीट करते हुए लिखा। मैं कुछ छात्राओं से मिली। उन्होंने बताया कि उन्हें पढ़ने और सुरक्षा के लिए स्मार्टफोन की जरूरत है। मुझे खुशी है कि घोषणा समिति की सहमति से यूपी कांग्रेस ने निर्णय लिया है कि सरकार बनने पर इंटर पास लड़कियों को स्मार्टफोन और स्नातक ल़ड़कियों को स्कूटी दी जाएगी।

Read More: दो वाहनों के बीच जोरदार टक्कर, 4 लोगों की मौके पर मौत, 12 की हालत गंभीर

यूपी में प्रियंका गांधी के इस वादे के कुछ घंटे बाद ही पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह ने ट्विटर पर प्रियंका गांधी और भूपेश बघेल को टैग करते हुए लिखा कि छग में महिलाओं और बेटियों को स्मार्टफोन देने बीजेपी ने स्काई योजना बनाई थी। कांग्रेस ने दुर्भावनावश योजना को बंद कर लाखों स्मार्टफोन कबाड़ में फेंक दिए। प्रियंका गांधी यूपी में बेटियों को स्मार्ट फोन देने का वादा कर रही है, फिर छत्तीससगढ़ की बेटियों से छल क्यों ?

Read More: ‘महंगाई रोकने के लिए पीएम मोदी बना रहे आत्मनिर्भर’ पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष का बड़ा बयान

रमन सिंह के ट्वीट पर कांग्रेस ने पलटवार किया कि 2018 में वोट पाने के लिए घटिया क्वालिटी के चाइना मोबाइल बांटे। वहीं मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी जवाब दिया किजब रमन सिंह ने मोबाइल बांटे तब कोई मांग नहीं थी, टॉवर भी नहीं थे। रमन सरकार ने केवल कमीशन के चक्कर में मोबाइल बांटे। जबकि बीजेपी ने तंज कसते हुए कहा कि सीएम को छग से ज्यादा चिंता यूपी के लोगों की है।

Read More: ‘घर से मत निकलो, बाहर सब मर चुके हैं… एक सप्ताह तक पति और बेटे को कमरे में बंद की महिला, बुलानी पड़ी पुलिस, जानिए क्या है पूरा माजरा

दरअसल मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जब से उत्तरप्रदेश विधानसभा चुनाव के लिये चीफ ऑब्जर्वर बने हैंए तब से छत्तीसगढ़ बीजेपी के नेता कुछ ज्यादा ही हमलावर है। सीएम का लखीमपुर दौरा और पत्थलगांव घटना को लेकर आरोप.प्रत्यारोप किसी से छिपा नहीं है। अब प्रियंका गांधी के वादे को रमन सिंह ने छत्तीसगढ़ की बेटियों से छल बताते हुए कांग्रेस को आड़े हाथों लिया है। जाहिर है विधानसभा चुनाव में महज 2 साल का वक्त बचा है। लिहाजा बीजेपी नई रणनीति के साथ सीएम भूपेश बघेल पर हमलावर है। इसकी बड़ी वजह यूपी समेत अन्य राज्यों में मुख्यमंत्री के रुप में भूपेश बघेल का दौरा होना है। लिहाजा पहले छत्तीसगढ़ बीजेपी ने लखीमपुर की घटना को छत्तीसगढ़ के किसान और आदिवासियों से जोड़ाए तो अब स्मार्टफोन देने के वादे को राज्य की महिला वर्ग से जोड़ दिया है। अब देखना होगा कि छत्तीसगढ़ बीजेपी के सियासी दांव का सत्तारूढ़ कांग्रेस और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल कैसे जवाब देते हैं।