गोबर बेचकर बेटे को कराई NEET की कोचिंग, मेडिकल कॉलेज में मिला प्रवेश, CM भूपेश और विधायक जायसवाल ने दी बधाई |

गोबर बेचकर बेटे को कराई NEET की कोचिंग, मेडिकल कॉलेज में मिला प्रवेश, CM भूपेश और विधायक जायसवाल ने दी बधाई

दरअसल, छात्र आलोक सिंह का एमबीबीएस में चयन हो गया है और आलोक सिंह को कांकेर मेडिकल कॉलेज में दाखिला भी मिल गया है।

Edited By: , November 29, 2022 / 08:53 PM IST

मनेंद्रगढ़। छत्तीसगढ़ सरकार की गोधन न्याय योजना ने एक गरीब परिवार के साथ न्याय किया है। इस योजना के माध्यम से एक गरीब परिवार का बेटा भी अब डॉक्टर बनकर अपने सपने पूरा करेगा। दरअसल, छात्र आलोक सिंह का एमबीबीएस में चयन हो गया है और आलोक सिंह को कांकेर मेडिकल कॉलेज में दाखिला भी मिल गया है।

इसके लिए स्थानीय विधायक डॉक्टर विनय जायसवाल ने और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने छात्र को बधाई दी है, विधायक विनय जायसवाल ने छात्र को घर जाकर बधाई प्रेषित की है। खास बात यह है कि आलोक के पिता ने मुख्यमंत्री गोधन न्याय योजना का पूरा लाभ उठाते हुए करीब 3 लाख का गोबर बेचा और उसी पैसे से बेटे को नीट की कोचिंग कराई बेटे ने भी मन से पढ़ाई करते हुए नीट का एग्जाम भी पास कर लिया और अब उसे मेडिकल में दाखिला भी मिल चुका है।

उनकी इस उप​लधि पर एमबीबीएस के छात्र आलोक सिंह को सीएम ने बधाई दी, विधायक विनय जायसवाल ने छात्र के घ्ज्ञर पहुंचकर सीएम भूपेश बघेल से भी आलोक सिंह और उनके पिता संतोष सिंह से फोन में बता करवाई और खुद भी बधाई दी।

मनेंद्रगढ़ विधानसभा के नगर पालिका मनेंद्रगढ़ के वार्ड क्रमांक 15 के निवासी संतोष सिंह के सुपुत्र आलोक सिंह का सिलेक्शन नीट की परीक्षा उत्तीर्ण कर एमबीबीएस में हुआ चयन। वर्तमान में आलोक सिंह कांकेर मेडिकल कॉलेज में अपनी पढ़ाई कर रहे हैं।

read more: कल तक प्रत्याशी के नाम घोषत हो जाएंगे-Mohan Markam | Fast 50 | Watch The Latest Top 50 News Of The Day

read more: Bhanupratappur by-election : कांग्रेस चुनाव समिति की बैठक समाप्त, भानुप्रतापपुर उपचुनाव के लिए प्रत्याशियों के नाम पर हुई चर्चा