साध्वी जहां…विवाद वहां! नर्मदा परिक्रमा को लेकर दिए बयान का कांग्रेस ने किया विरोध, मचा सियासी घमासान

अब सवाल ये है कि जिन लोगों को जनता ने अपने मुद्दे उठाने के लिए चुना वो बेवजह के विवादों में क्यों उलझ कर रह जाते हैं।?

Edited By: , October 17, 2021 / 12:47 PM IST

Sadhvi Jahan Controversy Hindi

भोपाल। अपने बयानों को लेकर अक्सर सुर्खियों मे रहने वाली बीजेपी सांसद साध्वी प्रज्ञा एक बार फिर विवादों में है। दशहरा के मौके पर बिना किसी का नाम लिए साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने नर्मदा परिक्रमा करने वालों पर निशाना साधा तो कांग्रेस इसके विरोध में उतर गई। कहीं नारेबाजी की गई तो कहीं उनका पूतला फूंका गया। कांग्रेस नेताओं ने बीजेपी सांसद की जमानत खारिज करने तक की मांग कर दी। हालांकि बीजेपी पूरे प्रकरण में साध्वी का बचाव करती दिखी। अब सवाल ये है कि जिन लोगों को जनता ने अपने मुद्दे उठाने के लिए चुना वो बेवजह के विवादों में क्यों उलझ कर रह जाते हैं।?

ये भी पढ़ें:  साथ रह रहे अलग-अलग धर्मों के युवक-युवतियों को लेकर जरुरी खबर, कोर्ट ने पुलिस को दिए ये अहम निर्देश

दशहरा के धार्मिक मंच से भोपाल सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के जुबान से निकले ये बोल बताते हैं कि। उनका गुस्सा अब तक शांत नहीं हुआ है। वो अपने राजनीतिक विरोधियों को अब भी अपना दुश्मन मानती हैं। यही वजह है कि राजधानी भोपाल में विजयादशमी के मौके पर आयोजित एक कार्यक्रम में साध्वी प्रज्ञा ने बिना किसी का नाम लिये कांग्रेस नेताओं को जमकर खरी-खोटी सुनाई। जिसके बाद कांग्रेस विधायक पूर्व मंत्री पीसी शर्मा मंच छोड़कर चले गए। साध्वी का बयान सामने आने के बाद कांग्रेस भी कहां चुप रहने वाली थी। हुआ भी वही। बीजेपी सांसद के पुतले फूंके गए और प्रज्ञा ठाकुर को पूरी तरह स्वस्थ बताते हुए जमानत खारिज करने की मांग की।

ये भी पढ़ें: वैक्सीन लगाया तो डसवा दूंगी सांप से’ टीका लगाने पहुंची मेडिकल टीम के सामने महिला ने रखा कोबरा

साध्वी प्रज्ञा ठाकुर अपने बयानों को लेकर हमेशा सुर्खियों में रही हैं। इससे पहले भी वो कई विवादित बयान दे चुकी हैं। जिनसे पार्टी के बड़े नेता भी नाराज़ हुए हैं। खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के एक बयान पर कह दिया था कि वो उन्हें कभी दिल से माफ नहीं कर पाएंगे। बहरहाल साध्वी के ताजा बयान पर बीजेपी नेता डैमेज कंट्रोल करने की कोशिश कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें: रामलीला के दौरान कलाकार की हार्ट अटैक से मौत, निभा रहे थे राजा दशरथ का किरदार

हालांकि ये पहला मौका नहीं है जब साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के बयान पर प्रतिक्रिया देने से बीजेपी नेता परहेज कर रहे हों। इससे पहले भी साध्वी के विवादित बयानों के बाद बीजेपी की किरकिरी हुई है। लेकिन अभी मध्यप्रदेश में तीन विधानसभा सीटों और खंडवा लोकसभा में उपचुनाव हैं। खंडवा तो नर्मदा नदी के किनारे बसा शहर है। अब सवाल ये है कि क्या कांग्रेस साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के बयान को नर्मदा का अपमान बताकर उपचुनाव में बढ़त लेने की कोशिश करेगी या बीजेपी वक्त रहते डैमेज कंट्रोल कर लेगी।

ये भी पढ़ें: नुसरत जहां ने यश दासगुप्ता से शादी को लेकर किया खुलासा! विजयादशमी पर शेयर की तस्वीर