मेल-मुलाकात और अटकलों की सियासत! आखिर मध्यप्रदेश में क्या चल रहा है परदे के पीछे?

मेल-मुलाकात और अटकलों की सियासत! आखिर मध्यप्रदेश में क्या चल रहा है परदे के पीछे?

Edited By: , June 7, 2021 / 06:18 PM IST

भोपाल: प्रदेश में इन दिनों अटकलों का बाजार गर्म है। अटकल ये कि क्या प्रदेश बीजेपी में या प्रदेश सरकार में कुछ फेरबदल होने को है। चर्चा ये भी क्या नेतृत्व परिवर्तन को लेकर कोई उठापटक जारी है। प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वी डी शर्मा, भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय समेत केंद्रीय मंत्रियों की बंद कमरे की मुलाकातों से ऐसा माहौल बना जैसे कुछ तो होने को है। हालांकि, इनमें से हर नेता इन बातों को खारिज करता रहा, यहां तक की नेताओँ को ये तक कहना पड़ा कि राज्य शिवराज सिंह चौहान ही चलाएंगे। वो सीएम थे, सीएम हैं और आगे भी रहेंगे, लेकिन बावजूद इसके अटकलों पर विराम नहीं लग सका है। दो दिन बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया भोपाल आ रहे हैं। जाहिर है बड़ा सवाल ये कि आखिर क्या चल रहा है परदे के पीछे? अगर कुछ नहीं तो इतना हल्ला क्यों है?

Read More: जांच कमेटी ने सीएम भूपेश बघेल को सौंपी सिलगेर मामले की रिपोर्ट, ग्रामीणों से बात कर तैयार की रिपोर्ट

मध्यप्रदेश की सियासत के दो दामदार नेता हैं, जिन्होंने हाल में ही बंगाल के चुनावों में अपनी रणनीति का लोहा मनवाया। इसके पहले ये दोनों ही नेता मध्यप्रदेश में भी अपनी कूटनीति के जरिए पार्टी की सत्ता में वापसी करा चुके हैं। लेकिन जिस तरह से बीते 10 दिनों में दिल्ली से लेकर भोपाल तक मुलाकातों का दौर चला है, उसके बाद ये दोनों नेता फिर चर्चा में हैं।

Read More: छत्तीसगढ़ में कल के मुकाबले आज बढ़ी कोरोना संक्रमितों की संख्या, मौत का आंकड़ा भी बढ़ा

दरअसल कैलाश विजयवर्गीय और नरोत्तम मिश्रा ने पिछले कुछ दिनों में दर्जनों नेताओं, विधायकों से मुलाकात की थी, जिसके बाद मध्यप्रदेश में सत्ता और संगठन में बड़े बदलाव के कयास लगाए जाने लगे। लेकिन दोनों ही नेताओँ ने उन सभी अटकलों को खारिज कर दिया।

Read More: टकराव, मनमुटाव या महज अफवाह…लगातार बैठकों के बाद UP में बदलाव की अटकलें, आखिर सीएम योगी को लेकर चल क्या रहा है?

बीजेपी के दोनों दिग्गज नेताओं ने भले साफ कर दिया कि एमपी में सीएम शिवराज के नेतृत्व में ही राज्य चलेगा और सोशल मीडिया पर चल रही खबरें बकवास हैं। लेकिन बीजेपी के अंदर मचे घमासान पर कांग्रेस जमकर कटाक्ष कर रही है। कांग्रेस ने ट्वीट करते हुए तंज कसा कि बाइटवीर सीएम की दौड़ से बाहर हो गए, इसलिए शिवराज सिंह का समर्थन कर डैमेज कंट्रोल  की कोशिश की। कांग्रेस ने ये भी लिखा है कि कौन चखेगा CM पद का स्वाद… कैलाश, वीडी, उमा या फिर प्रह्लाद। वहीं पूर्व मंत्री पीसी शर्मा ने कहा है कि बीजेपी के कई नेता उठापटक तो कर रहे हैं, लेकिन सीएम शिवराज सिंह ने भी कच्ची गोलियां नहीं खेली है। लेकिन BJP प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष वीडी शर्मा ने कांग्रेस पर अनर्गल बातें फैलाने का आरोप लगाया है।

Read More: छत्तीसगढ़ का यह जिला 14 जून तक के लिए कंटेनमेंट जोन घोषित, इन सेवाओं को रहेगी छूट, जिला प्रशासन ने जारी की गाइडलाइन

कुल मिलाकर प्रदेश में बीजेपी के सीनियर लीडर्स के मेल-मिलाप ने कई अटकलों का जन्म दिया है।  सोशल मीडिया में नेतृत्व परिवर्तन के कयास की खबरें भी चर्चा का विषय बनी। अब कैलाश विजयवर्गीय औऱ नरोत्तम मिश्रा के इन खबरों का खंडन के बाद सबसे बड़ा सवाल यही है कि क्या इन अटकलों पर विराम लगेगा।

Read More: प्रदेश में कोरोना एक्टिव मरीजों की संख्या 8 हजार 860, आज के आंकड़े देखकर मिलेगी राहत