कस्टमर केयर अधिकारी बनकर लोगों को लगाया करोड़ों रुपए का चूना, गिरोह के तीन सदस्य पहुंचे हवालात

कस्टमर केयर अधिकारी बनकर लोगों को लगाया करोड़ों रुपए का चूना, गिरोह के तीन सदस्य पहुंचे हवालात

Edited By: , March 11, 2021 / 07:17 PM IST

बस्ती: उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले में ऑनलाइन पेमेन्ट गेटवे की कम्पनियों के फर्जी कस्टमर केयर अधिकारी बनकर करोड़ों रूपयों की ठगी करने वाले अन्तर्राज्यीय गिरोह का पुलिस ने पर्दाफाश किया है। पुलिस अधीक्षक हेमराज मीणा ने बताया कि 10 नवम्बर को रामकरन नामक व्यक्ति ने गौतम दुबौलिया थाने पर शिकायत दर्ज करायी गयी कि उसने अपने पुत्र के पास 4100 रुपये आनलाइन भेजे थे लेकिन उसके बैंक खाते से कटने के बावजूद वह धन उसके बेटे के खाते में नहीं पहुंचा।

Read More: बिरसा मुंडा की जयंति पर सीएम शिवराज का ऐलान, कहा- अब आदिम जनजातीय मंत्रालय जाना जाएगा जनजातीय कार्य मंत्रालय के नाम से

उन्होंने बताया कि उसके बाद रामकरन ने गूगल से कस्टमर केयर का टोलफ्री नम्बर लेकर फोन किया। कथित कस्टमर केयर अधिकारी ने दूसरे मोबाइल नम्बर पर बात करने को कहा। जब उसने कस्टमर केयर अधिकारी द्वारा बताये गये नम्बर पर फोन किया तो बात करने वाले व्यक्ति ने अपनी बातों में फंसाकर उनके खाते से 89,998 रुपये फर्जी तरीके से ऑनलाइन निकाल लिये। मीणा ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने कलवारी टैक्सी स्टैंड पर बिहार निवासी सतेन्द्र कुमार सिंह, अक्षय कुमार और नीलकमल नामक अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया।

Read More: मुझे पता है कि कुछ भूमिकाओं के लिए मैं उपयुक्त नहीं हूं: अभिषेक बच्चन

पुलिस अधीक्षक के मुताबिक पकड़े गए अभियुक्तों ने बताया कि वे अपना एक संगठित गिरोह चलाते हैं और गूगल पर अपनी तरफ से ऑनलाइन भुगतान करने वाली कम्पनियों के नाम के फर्जी कस्टमर केयर हेल्पलाइन नम्बरों को अपलोड कर देते हैं। लोग संबंधित कम्पनी का कस्टमर केयर अधिकारी समझकर उनसे सम्पर्क करते हैं। वे फोन करने वाले व्यक्ति को समस्या का समाधान करवाने के नाम पर अपनी बातों में फंसा लेते हैं, और उनसे रूपयों की ऑनलाइन ठगी करते हैं। अधिकारी ने बताया कि यह गिरोह देश के विभिन्न राज्यों के व्यक्तियों के साथ अब तक लगभग तीन करोड़ रुपये की ऑनलाइन ठगी कर चुका है।

Read More: जशपुर के बाद अंबिकापुर में भी पटाखा फोड़ते समय युवक की मौत, खुशियों के बीच पसरा मातम